डायन बताकर महिला के काटे बाल, शिकायत दर्ज

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 01/04/2018 - 12:13

Deoghar : डायन-बिसाही के नाम पर आज भी महिलाओं के साथ होनेवाला अत्याचार लगातार जारी है. इस अत्याचार का खासतौर पर ऐसी महिलाएं शिकार होती हैंजो या तो विधवा हैं अथवा वृद्ध. समाज में अंधविश्वास का कहर थम नहीं रहा है. बच्चे बीमार हों या मवेशी बीमार हो जाये, इलाज नहीं कराकर डायन की करतूत पर ज्यादा विश्वास कर रहे हैं. हर दिन इस प्रकार की घटनाएं हो रही हैं.

मजदूरी करके गुजर बसर करती है महिला

ऐसी ही घटना देवघर के सारवां थाना क्षेत्र में देखने को मिली जहां डायन बताकर  एक महिला को उसके घर में घुसकर कुछ लोगों ने अपमानित किया.  महिला का नाम सुशीला देवी बताया जा रहा है. महिला जब उक्त घटना की शिकायत करने थाने पहुंची, तो थाने में शिकायत दर्ज नहीं किया गया जिसके बाद महिला ने कोर्ट में शरण ली और मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में शिकायत दाखिल कराई. इसे शिकायतवाद कर सुनवाई के लिए रखा  गया है. सुशीला देवी मजदूरी करके गुजर बसर करती है.

इसे भी पढ़ें: डायन बताकर खुलेआम महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, कहीं वृद्धा को उठा ले गये, तो कहीं कर दी हत्या

महिला के काटे बाल

गौरतलब है कि गांव के परमेश्वर दास का बैल बीमार था, तो तांत्रिक ने डायन की करतूत की आशंका जतायी. इसकी जानकारी मिलने के बाद गांव के परमेश्वर दास, रोहित दास, देबु दास, बलवीर दास व सुशीला देवी महिला के घर पर आ धमके व गाली-गालौज करने लगे. विरोध करने पर बाल पकड़ कर जमीन पर पटक दिया. महिला को मैला पिलाया व उसके बाल काट लिये. साथ ही साड़ी का आंचल काट लिया व डायन प्रभाव खत्म करने के लिए कटे बाल व आंचल को चौक पर जला दिया.

पहले भी हो चुकी है ऐसी घटना

उल्लेखनीय है कि  ऐसा ही एक मामला सरायकेला में देखने को मिला था जहां कुचाई थाना के गोमियाडीह पंचायत के सेकरेडीह गांव की एक वृद्ध महिला को लोग डायन बताकर उठा कर ले गये थे . वृद्धा का परिवार इस वाकये से इतना डर गया कि परिवार के सारे लोग घर छोड़ कर ही भाग खड़े हुए थे. अपनी जान बचाने के लिए इस परिवार को जंगल में छुपना पड़ा था . घटना 27 दिसंबर की है. घटना के बाद हिम्मत जुटा कर वृद्धा के बेटे ने पुलिस अधीक्षक को लिखित आवेदन दिया था. वृद्धा के बेटे बुधराम मुंडा ने आवेदन में बताया था कि शाम करीब सात बजे उसकी मां अयोध्या मुंडा को गांव के ही करीब दस से पंद्रह लोग जबरदस्ती डायन कहते हुए उठा कर ले गये थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

City List of Jharkhand
loading...
Loading...