गिरिडीह: कोयला तस्करी का आरोपी बिरनी थाना से फरार, जांच शुरू

Submitted by NEWSWING on Thu, 01/11/2018 - 17:39

Giridih: गिरिडीह जिले में एक कोयला तस्कर के पुलिस हिरासत में थाना से भागने का मामला सामने आया है. कोयला तस्करी के एक मामले में गिरिडीह की बिरनी थाना पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में लिया था. इसी में से एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. मामले को गंभीरता से लेते हुए एसडीपीओ दीपक शर्मा ने मामले की खुद जांच शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ेंः रघुवर दास सीएस राजबाला वर्मा पर एहसान नहीं कर रहे, बल्कि एहसान का बदला चुका रहे हैं : विपक्ष

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि बीते 9 जनवरी को भरकट्टा तुलाडीह गांव में गुप्त सूचना के आधार पर बिरनी थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने दलबल के साथ छापेमारी की थी. छापेमारी के दौरान गांव के सुरेश राम और दिलीप राम के घर से लगभग 1 हजार टन अवैध कोयला बरामद किया था. वहीं मौके से सुरेश राम और दिलीप राम को हिरासत में लेकर थाना हाजात में रखा गया था, लेकिन 10 जनवरी की शाम सुरेश राम पुलिस को चकमा देकर थाना से फरार हो गया.

इसे भी पढ़ेंः आदिवासी छात्र संगठनों के रांची बंद का आंशिक असर, आदिवासी हॉस्टल से हिरासत में लिये गये सैकड़ों छात्र

जप्त हुआ था 1000 टन कोयला, लेकिन थाना पहुंचा केवल 700 टन

पुलिस ने जब छापामारी किया था उस दौरान ग्रामीणों की उपस्थिति में मौके से कुल एक हजार टन कोयला बरामद किया गया था, लेकिन हैरत की बात यह कि थाना में महज़ 700 टन कोयला ही पहुंचा. बाकी कोयला बीच रास्ते से ही गायब हो गया. इस मामले को लेकर एसडीपीओ दीपक शर्मा, एसआई जयकुमार सिंह और सुरेन्द सिंह से गंभीरता से पूछताछ कर रहे हैं. मामले को लेकर एसडीपीओ ने कहा कि कोयला गायब होने के मामले में पुलिस इंस्पेक्टर कपिलदेव पोद्दार को जांच का आदेश दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंः संघर्ष से शिखर तक पहुंचने वाले दो राजनीतिक धुरंधरों का बर्थडेः 74 के हुए शिबू सोरेन, बाबूलाल मरांडी की 60वीं सालगिरह

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...