जमशेदपुर : पटमदा में खजूर के पेड़ की जहरीली ताड़ी पीने से सात बच्चे बीमार

Submitted by NEWSWING on Fri, 01/05/2018 - 09:42

Jamshedpur : पटमदा थाना के सारी गांव में गुरुवार की सुबह खजूर की ताड़ी पीने से सात बच्चे बीमार पड़ गये. इनमें चार बच्चे सबर परिवार के हैं. इन सभी की उम्र तीन वर्ष से आठ वर्ष के बीच है. सभी को एमजीएम अस्पताल में भर्ती किया गया है.

सभी बच्चे खतरे से बाहर

कई दिनों से सारी गांव के आसपास खजूर के पेड़ से बंगाल से आए गुड़ कारोबारी ताड़ी निकाल रहे हैं. सारी गांव के तीन माझी बच्चे और चार सबर बच्चे रोज की तरह गुरुवार सुबह 10 बजे पेड़ में टंगी हंडी से ताड़ी को चुराकर पी गये. दोपहर 12 बजे बच्चों की स्थिति बिगड़ने लगी. ज्यादातर  बच्चों के मुंह से लार गिर रहे थे और वे कुछ भी बोल नहीं पा रहे थे. पहले इन्हें पटमदा सीएचसी में भर्ती कराया गया, लेकिन बच्चे जब उल्टी करने लगे तो एंबुलेंस से एमजीएम ले जाया गया. डॉक्टरों ने बताया कि बच्चे खतरे से बाहर हैं. हो सकता है ताड़ी में जहरीला पदार्थ मिलाया गया हो, लेकिन अभी पुख्ता तौर पर कुछ भी कहा नहीं जा सकता.

इसे भी पढ़ें: जमशेदपुर में ऑनर किलिंग: प्रेम प्रसंग से नाराज पिता ने ली बेटी की जान

घटनास्थल से प्लास्टिक की बोतल बरामद, बीडीओ ने कही जांच कराने की बात

घटना की सूचना पाकर मुखिया खगेंद्रनाथ सिंह, पूर्व मुखिया नीलरतन पाल व बीडीओ सच्चिदानंद महतो भी अस्पताल पहुंचे.  बीडीओ सच्चिदानंद महतो ने तुरीकोचा सबर टोला से प्लास्टिक के बोतल भी बरामद किये हैं. बच्चों ने पेड़ पर लटकी हंडी से ताड़ी निकालकर इन्हीं प्लास्टिक के बोतलों से पिया था. वहीं बीडीओ ने बोतल की जांच कराने की बात कही.

शायद ताड़ी की हंडी में मिलाया गया हो जहरिला पदार्थ: ग्रामीण

 सारी गांव की सोमवारी माझी ने बताया कि उनके बच्चे अक्सर पेड़ में टांगे गये हंडी से ताड़ी चुरा कर पीते थे कभी ऐसा नहीं हुआ. बच्चों द्वारा रोज-रोज के इस घटना से गुड़ व्यापारी काफी परेशान थे, हो सकता है इसी परेशानी से बचने के लिए हंडी में जहरीला पदार्थ मिला दिया गया हो. दूसरी ओर गांव वाले का कहना है कि खजूर की हंडी में सांप, गिरगिट्टी, छिपकिल्ली भी पहुंच जाते हैं, हो सकता है उनसे कोई प्वाइजन फैला हो.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

City List of Jharkhand
loading...
Loading...