रांची बंद को सफल बनाने सड़क पर नहीं उतरे आदिवासी नेता सोशल साइट में छात्रों के निशाने पर

Submitted by NEWSWING on Thu, 01/11/2018 - 21:06

Ranchi: आरक्षण के  मामले पर विभिन्न आदिवासी छात्र संगठनों ने गुरुवार को रांची बंद बुलाया. बंद आंशिक रूप से सफल रहा, लेकिन बंद का नेतृत्व करने के लिए कोई आदिवासी नेता सड़क पर नहीं उतरा. छात्र राजनीति करके विधानसभा की शोभा बढ़ने वाले चमरा लिड़ा भी इस आंदोलन में छात्रों के साथ नजर नहीं आये. वहीं सोशल साइट पर आदिवासी छात्रों के बीच इसे लेकर जोर-शोर से बहस चल रहा है कि आखिर क्यों छात्रों के नेतृत्व के लिए आदिवासी नेता सड़क नही उतरे. कृष्णा लकड़ा ने पोस्ट किया है कि आज का रांची बंदी आपसी गुटबाजी के कारण असफल हुआ.

इसे भी पढ़ेंः आदिवासी छात्र संगठनों के रांची बंद का आंशिक असर, आदिवासी हॉस्टल से हिरासत में लिये गये सैकड़ों छात्र

सोशल साइट पर किसने क्या कहा

रतन एलएस मुंडाः यही तो सबसे बड़ी कमजोरी है. सभी संगठनों, विशेषकर आदिवासी संगठनों का लोग नेता बनना चाहते हैं, लेकिन नेतृत्व करने की क्षमता किसी में नहीं है. ऐसे लोग दलाली करने के लिए परिपक्व कैसे हो जाते हैं समझ में नहीं आता.

संजय उरांवः आदिवासी विधायक मूर्ख हैं. इनको सिर्फ वोट चाहिए ... को. .. कम पढ़े लिखे हैं. समझ में नहीं आता.

मंदीप मिंजः आपसी मतभेद केवल नहीं है, और भी कारण हैं. जैसे बंद का आह्वान कर देने भर से नहीं होने वाला. जब तक जनसंपर्क न किया जाए. अखबार एवं सोशल मीडिया में लिखने भर कुछ नहीं होता. जितने लोग अगुवाई करते हैं, ज्यादातर कोढ़िया किस्म के होते हैं. किसी भी संगठन के पास व्यापक जनसमर्थन नहीं है.  इस हालत में जनसमर्थन जुटाना पड़ता है. जो नेतई करना चाहते हैं उनको लगता है समस्या वृहद है तो जनसमर्थन खुद ही मिल जाएगा. बिना मेहनत नहीं होता. तैयारी अधूरी थी.

सुधीर सुरीनः  ये रांची झारखण्ड बन्द होने नहीं देगी. ऐ सरकार सत्ता और शक्ति इनके पास है. अपने-अपने आदिवासी विधायक सांसद, मंत्री के गांव-घर पर घेराव करना पड़ेगा, तब जाकर खूंटी हिलेगा.

गोपाल सोरेनः आदिवासी विधायक को पीटना होगा, तब जा कर ये विधायक लोग सुधरेंगे.

राजेश कुमार किस्कूः  झारखण्ड के सभी आदिवासी नेतागण अंधे और बहरे हैं. इन्हें कुछ नहीं सूझता. इसलिए इन्हें भी सबक सिखाया जायेगा.

सुनील कुमार मुंडूः विधायक के घरों को घेरने का प्लान बनाना चाहिये.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
Top Story
loading...
Loading...