किसानों की मांग पर सरकार संवेदनशील: फडणवीस

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/12/2018 - 13:53

Mumbai: कर्ज माफी के मांग पर अड़े किसानों की प्रति सरकार का रवैया सकारात्मक है. ये कहना है महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस का. मुख्यमंत्री ने विधानसभा में एक चर्चा के दौरान कहा कि उनकी सरकार उन किसानों और आदिवासियों की मांग के प्रति“ संवेदनशील और सकारात्मक’’ है जो प्रशासन का ध्यान अपनी समस्याओं की तरफ खींचने के लिए नासिक से मुंबई चलकर आए हैं. फडणवीस ने ये भी कहा कि “ करीब90 से95 प्रतिशत प्रतिभागी गरीब आदिवासी हैं. जो वन्य भूमि अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं. उनके पास जमीन नहीं है और वो खेती नहीं कर सकते. सरकार उनकी मांगों के प्रति संवेदनशील और सकारात्मक है.”

इसे भी पढ़ें: मुंबई : विधानसभा घेरने पहुंचा 30 हजार किसानों का जत्था, कर रहे महा-मोर्चा, लाल हुआ आजाद मैदान

क्या है किसानों की मांग ?

किसान
किसानों का महाआंदोलन

महाराष्ट्र के किसान शांतिपूर्ण विरोध यात्रा के जरिए पूर्ण कर्ज माफी और फसलों पर गुलाबी कीट के हमले और ओलावृष्टि से तबाह हुई फसल के लिए मुआवजे की मांग कर रहे हैं. नासिक से करीब 180 किलोमीटर की दूरी तय कर अपने हाथों में लाल झंडा थामे करीब 30 हजार से ज्यादा किसान दक्षिण मुंबई के आजाद मैदान में जुटे है. किसान बिना किसी शर्त के ऋण माफी और वन्य जमीन को जनजातीय किसानों को हस्तांतरित करने की मांगों को लेकर विधानसभा घेरने निकले है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी  

बीजेपी के किस एमपी को मिलेगा टिकट, किसका होगा पत्ता साफ? RSS बनायेगा भाजपा सांसदों का रिपोर्ट कार्ड

आतंकियों की आयी शामतः सीजफायर खत्म, ऑपरेशन ऑलआउट में दो आतंकी ढेर- सर्च ऑपरेशन जारी

दिल्ली: अनशन पर बैठे मंत्री सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबियत, आधी रात को अस्पताल में भर्ती

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब

सूचना आयोग में अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगी सुनवाई, मोबाइल ऐप से पेश कर सकते हैं दस्तावेज

झारखंड को उद्योगपतियों के हाथों में गिरवी रखने की कोशिश है संशोधित बिल  :  हेमंत सोरेन

जम्मू-कश्मीर : रविवार से आतंकियों व अलगाववादियों के खिलाफ शुरु हो सकता है बड़ा अभियान

उरीमारी रोजगार कमिटी की दबंगई, महिला के साथ की मारपीट व छेड़खानी, पांच हजार नगद भी ले गए

विपक्ष सहित छोटे राजनीतिक दलों को समाप्त करना चाहती है केंद्र सरकार : आप