लोहरदगा में नक्सलियों की पुलिस को नुकसना पहुंचाने की योजना नाकाम, 238 किलो सेफ्टी फ्यूज बरामद

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/06/2018 - 09:27

Lohardaga : लोहरदगा पुलिस ने नक्सलियों को फिर तगड़ा झटका दिया है. नक्सलियों द्वारा पुलिस को नुकसान पहुंचाने की योजना को विफल कर दिया गया है. सीआरपीएफ 158 बटालियन और जिला पुलिस बल की टीम ने पेशरार प्रखंड के मुरहू करचा जंगल से भारी मात्रा में विस्फोटक तैयार करने का सामान बरामद किया है. गौरतलब है कि विगत एक पखवाड़े के भीतर पुलिस की नक्सलियों के खिलाफ दूसरी सफलता है.

इसे भी पढ़ें- मोदी की रैली स्थान पर छात्रों ने स्कॉलर गाउन पहनकर बेचा पकौड़ा

जिले में वर्ष 2017 में कुल 18 नक्सलियों ने किया था आत्मसमर्पण

लोहरदगा में वर्ष 2017 में कुल 18 नक्सलियों के आत्मसमर्पण करने और कई नक्सलियों की गिरफ्तारी के बाद लगभग बिखर चुके नक्सलियों द्वारा पुलिस को नुकसान पहुंचाकर अपनी धाक फिर से जमाने की कोशिश को तगड़ा झटका लगा है. पुलिस ने विस्फोटक तैयार करने का सामान बरामद कर नक्सलियों के मंसूबे पर पानी फेर दिया है.

इसे भी पढ़ें- हमें नहीं चाहिए नया भारत, लौटा दो मेरा पुराना भारत, जहां लोगों में डर व खौफ न हो : गुलाम नबी आजाद

क्या है पूरा मामला

उल्लेखनीय है कि एसपी राजकुमार लकड़ा को गुप्त सूचना मिली थी कि पेशरार के जंगलों में नक्सलियों द्वारा आईआईडी बम तैयार करने को लेकर सामान जुटाया जा रहा है. नक्सली आईआईडी तैयार कर नक्सल विरोधी अभियान के दौरान पुलिस को नुकसान पहुंचा सकते हैं. जिसके बाद एसपी ने सीआरपीएफ और जिला पुलिस की संयुक्त टीम गठित करते हुए छापेमारी का निर्देश दिया. सीआरपीएफ जिला पुलिस बल की टीम छापेमारी के दौरान जैसे ही मुरहू करचा जंगल में पहुंची तो वहां पर छिपाकर रखे गये संदिग्ध सामानों को पाया गया. जांच करने पर टीम को जंगल से 238 किलोग्राम आईईडी तैयार करने के सेफ्टी फ्यूज सहित कई सामान मिले. पुलिस ने सामान को जब्त कर लिया है. लोहरदगा पुलिस द्वारा नक्सलियों के विरुद्ध की गई इस कार्रवाई से नक्सली संगठन की योजना पर पानी फिर गया है. वहीं  पुलिस का हौसला बुलंद हुआ है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.