पलामू: नकल करते 32 परीक्षार्थी धराये, सभी एक्सपेल्ड, दो वीक्षक भी निलंबित, केंद्राधीक्षक को शोकॉज

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/12/2018 - 16:58

Palamu: पूरे राज्य में चल रही मैट्रिक और इंटर की परीक्षा में कदाचार को लेकर सख्ती बरती जा रही है. इधर पलामू में परीक्षा को कदाचारमुक्त कराने के उद्देश्य से उपायुक्त अमित कुमार ने एक साथ कई परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान 32 छात्र-छात्राओं को कदाचार के आरोप में परीक्षा से निष्कासित किया गया, जबकि दो वीक्षकों को निलंबित और एक केन्द्राधीक्षक को शोकॉज किया गया. डीसी की इस कार्रवाई से जिले में हड़कंप मचा है.

इसे भी पढ़ें: सरयू राय ने सीएम को लिखी चिट्ठीः "इरादों में इमानदार नहीं रहनेवाली राजबाला वर्मा" को मंत्रिपरिषद की विज्ञप्ति में उत्कृष्ट, कुशल व दक्ष प्रशासक बताये जाने पर आपत्ति जतायी

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की सकारात्मक पहल : बेरोजगार युवतियों के बीच सिलाई मशीन का वितरण

कहां-कहां डीसी ने किया निरीक्षण ?

उपायुक्त अमित कुमार ने मैट्रिक की परीक्षा के लिए जीएलए कॉलेज, गिरिवर स्कूल, केजी स्कूल, रजवाडीह संस्कृत मध्य विद्यालय स्थित परीक्षा केंद्र का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान उपायुक्त ने नकल करते हुए 18 परीक्षार्थियों को पकडा़, इनमें चार लड़किया भी शामिल हैं. कदाचार के आरोप में पकड़े गये छात्रा-छात्राओं के पास से दो मोबाइल फोन भी बारामद हुआ है.

परीक्षा केंद्र के अंदर कैसे पहुंचा मोबाइल फोन ?

मोबाइल फोन परीक्षा केंद्र के अंदर कैसे गये, इसकी जांच के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी को आदेश दिये गये है. जांच रिर्पोट आने के बाद संबंधित लोगों पर कार्रवाई की जायेगी. उपायुक्त ने कदाचार के आरोप में संलिप्त रजवाडीह मध्य विद्यायल के दो वीक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. साथ ही केंद्राधीक्षक को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है.

इसे भी पढ़े: राज्यसभा के 'रण' का महारथी कौन ? चुनावी गणित का इशारा : फायदे में होकर भी बहुमत से दूर रहेगी बीजेपी

रजवाडीह मध्य विद्यालय से सबसे अधिक 17 छात्र धराये

उपायुक्त ने रजवाडीह संस्कृत मध्य विद्यालय में जिला शिक्षा पदाधिकारी मीना कुमारी राय को बुलाकर छात्राओं की जांच कराने का निर्देश दिया. उपायुक्त ने बताया कि जिले में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा शांतिपूर्ण और कदाचार मुक्त हो रहा है. जीएलए कॉलेज परीक्षा केंद्र से एक छात्र को कदाचार करते पकड़ा गया. इसी तरह से रजवाडीह मध्य विद्यालय में कदाचार होने की सबसे अधिक जानकारी मिल रही थी. यहां से 17 छात्र-छात्राओं को कदाचार करते पकड़ गया.

छत्तरपुर से 14 परीक्षार्थी एक्सपेल्ड

इधर, छत्तरपुर प्रखण्ड क्षेत्र में चल रही परीक्षा में गुलाबचन्द प्रसाद इंटर महाविद्यालय में मैट्रिक की परीक्षा में कदाचार करते छह छात्राओं समेत 14 छात्रों को छत्तरपुर अनुमण्डल पदाधिकारी राजेश प्रजापति, डीएसपी शम्भू सिंह, बीडीओ रामरतन वर्णवाल, सीओ विजय हेमराज खलको की मौजूदगी में एक्सपेल्ड किया गया.

कई केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरा नहीं 

औचक निरीक्षण के दौरान ये भी साबित भी हुआ कि कुछ केंद्रों पर छात्र-छात्राएं खुलेआम नकल कर रहे थे. इस कार्य में वहां पर नियुक्त शिक्षक भी कदाचार कर रहे थे. उन्होंने बताया कि पूरे जिले में मैट्रिक और इंटर का 56 केंद्र बनाया गया है. उनमें 45 केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा पहले ही लगा दिया गया था. शेष बचे केंद्रों पर भी एक दो दिनों में सीसीटीवी कैमरा लगा दिया जायेगा. सभी परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारियों और पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है. डीसी ने कहा कि परीक्षा में धांधली नहीं चलने दी जायेगी. कदाचार में जो लोग भी शामिल पाया जायेगा उसपर कार्रवाई की जायेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म