दुमका प्रखण्ड के गोविंदपुर गांव में रघुुुुवर ,हेमंत सहित 42 विधायकों का पुतला दहन

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 03/06/2018 - 18:31

DUMKA : झारखंड में कुरमी जाति को आदिवासी का दर्जा देने को लेकर लंबे समय से सियासत होती आई है...मगर इस बार कुरमी जाति के लोगों ने ही सीएम सहित 42 विधायकों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया, जिसकी वजह भी कम हैरान करने वाली है. राज्य में कुरमी जाति को आदिवासी में शामिल किए जाने की अनुशंसा के बाद विधायकों और सांसदों के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है. संथालपरगना के कई गांवों में हेमंत और रघुवर दास का पुतला दहन किया जा चुका है. जो आब भी जारी है अनुशंसा के विरोध में अब आदिवासी समाज के धार्मिक संगठन भी राजनीतिक दलों के नेताओं के खिलाफ सड़क पर उतर रहे हैं. जिनका यह आक्रोश सिर्फ रघुवर दास के प्रति ही नहीं, बल्कि मुख्य विपक्षी पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन के प्रति भी है. 42 विधायकों और सांसदों द्वारा कुरमी को आदिवासी की श्रेणी में शामिल किए जाने संबंधी अनुशंसा के विरुद्ध में  दिसोम मारंग बुरु युग जाहेर आखड़ा और ग्रामीणों ने दुमका प्रखण्ड के गोविंदपुर गांव में ने हेमंत और रघुवर दास का पुतला फूंका.

इसे भी देखें- वे खाते में कम राशि रहने पर ले लेते हैं जुर्माना, पर नहीं देते सुविधा, कई दिनों से कैशलेस है ऑल टाइम मनी देने वाली एटीएम मशीनें

दुमका के गोविंदपुर गांव में किया गया इन नेताओं का पुतला दहन

मुख्यमंत्री रघुवर दास,प्रतिपक्ष नेता व पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन,सांसद विधुतवरण महतो,सांसद रामटहल चौधरी, प्रदीप यादव,विधायक चंपई सोरेन, ताला मरांडी,योगेश्वर माहतो,योगेन्द्र प्रसाद,जय प्रकाश भाई पटेल,कुणाल षाडगी,साधुचरण माहतो,नागेन्द्र माहतो,इरफान अंसारी,जीतू चरण राम,अमित कुमार,विकास मुंडा,निर्भय साह्बादी,जय प्रकाश बर्मा,दशरथ गगराई,अनन्त ओझा,नारायण दत्त,रवीन्द्र माहतो, चन्द्र प्रकाश चौधरी,निर्मला देवी,शशि भूषण समड,बिरंची नारायण,प्रकाश राम, कुशवाहा शिवपूजन मेहता,पीसी मंडल,राज सिन्हा,अलोक चौरसिया,गणेश गंझू,राज कुमार यादव सहित अन्य विधायको का पुतला दहन किया गया 

इसे भी देखें- डीबीटी हटाने के मुद्दे पर हुई बैठक में प्रतिनिधियों और मंत्री में हॉट टॉक, ज्यां द्रेज ने कहा- लोगों की परेशानी नहीं समझ रहे मंत्री  

आगामी चुनाव में इन सभी नेताओ और पार्टियों का राजनितिक,सामाजिक बहिष्कार
इसके साथ-साथ दुमका विधायक सह कल्याण मंत्री लुईस मरांडी का भी पुतला जलाया गया,क्यों कि वह आदिवासी मंत्री होकर भी इसका विरोध नही कर रही है आखाड़ा और ग्रामीणों ने कहा कि ये सभी नेता आदिवासियों के आरक्षण,रोजगार और अस्तित्व को खत्म करना चाहते है और झारखण्ड के समरसता को बिगाड़ना चाहते है लेकिन ऐसा हरगिज नहीं होने दिया जाएगा अगर इसे वापस नही लिया जाता है और सत्ता और विपक्ष पार्टियों के आदिवासी विरोधो निति बनी रहती है तो आखड़ा और ग्रामीणों ने यह निर्णय लिया है कि आगामी चुनाव में इन सभी नेताओ और पार्टियों का राजनितिक,सामाजिक बहिष्कार किया जायेगा और निर्दलीय को वोट देकर विजय बनाया जायेगा. इसके साथ-साथ इन सभी नेताओं का गांव-गांव जाकर पोल खोला जायेगा.

इसे भी देखें-  पलामू : धान बेचने के एवज में किसान से घूस लेते धान क्रय केन्द्र का इंचार्ज गिरफ्तार 

कार्यक्रम में ये लोग रहे मौजूद 
इस मौके में लुखिराम सोरेन,धुमह सोरेन,सिबद हांसदा,सोनोदी मरांडी,नुनकू हांसदा,सुकुरमुनी हेम्ब्रोम,सोनामुनी हेम्ब्रोम,श्रीमती मुर्मू,सुमि टुडू,क्रिशटीना मरांडी,मोदो हांसदा,बालक मुर्मू,अनिता मुर्मू,शिवलाल हांसदा,पुलिस सोरेन,मकु किस्कू,परमिला हांसदा,सीरीचरण सोरेन,महालाल हांसदा,मंगल मुर्मू,गुड़गह सोरेन,रामेश्वर टुडू,मुसुह हांसदा,धुनीराम मुर्मू के साथ काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थति थे .

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म