Skip to content Skip to navigation

जानें RBI की 2017-18 की चौथी द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा की मुख्य बातें

News Wing

Mumbai, 04 October- भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा चालू वित्त वर्ष के मौद्रिक समीक्षा संबंधी बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये हैं. आरबीआई की चालू वित्त वर्ष 2017-18 की चौथी द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा की मुख्य बातें इस प्रकार हैं.

- प्रमुख नीतिगत दर को छह प्रतिशत पर यथावत रखा गया.

- रिवर्स रेपो दर 5.75 प्रतिशत पर.

- 2017-18 के लिए आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को 7.3 प्रतिशत से घटकर 6.7 प्रतिशत किया.

- दूसरी छमाही में मुद्रास्फीति 4.2 से 4.6 प्रतिशत रहने का अनुमान.

- जीएसटी क्रियान्वयन की वजह से लघु अवधि में विनिर्माण क्षेत्र की संभावनाएं अनिश्चित.

- मुख्य मुद्रास्फीति को टिकाऊ आधार पर चार प्रतिशत के करीब रखने का लक्ष्य.

- केंद्रीय बैंक बैंकों के बही खाते से कंपनियों की दबाव वाली संपत्तियों के हल के लिए काम करेगा.

- हालिया संरचनात्मक सुधारों से कारोबारी धारणा, पारदर्शिता और अर्थव्यवस्था को औपचारिक बनाने को लेकर स्थिति सुधरी.

- केंद्रीय बैंक ने ठहरी निवेश परियोजनाओं को शुरू करने, कारोबार सुगमता में सुधार और जीएसटी सरलीकरण के लिये समन्वित प्रयासों पर बल दिया.

- राज्यों द्वारा वसूले जाने वाले काफी ऊंचे स्टाम्प शुल्क की दरों को तर्कसंगत बनाने का सुझाव. सस्ते आवास कार्यक्रमों को तेजी से आगे बढ़ाने पर बल.

- मौद्रिक नीति समिति की अगली बैठक 5-6 दिसंबर को होगी.

Share

Add new comment

UTTAR PRADESH

News WingLucknow, 17 October : अयोध्या में भगवान राम की प्रतिमा के निर्माण को गर्व का विषय बताते हुए...
News Wing Saharanpur, 17 October: यूपी के सहारनपुर में एक युवती को लेकर एक शादीशुदा व्यक्ति फरार हो...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us