Skip to content Skip to navigation

Opinion

Article by our Columnists

बिना घूस सीधे मुंह बात तक नहीं करते, अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस का क्या मतलब

Lalit Garg

Share

आखिर क्यों हम अपने बच्चों को यौन शोषण से नहीं बचा पा रहे..?

Dr. Neelam Mahendra

1 दिसंबर 2017 को कोलकाता के जीडी बिरला सेन्टर फॉर एजुकेशन में एक चार साल की बच्ची के साथ उसी के स्कूल के पीटी टीचर द्वारा दुष्कर्म.

Share

आज भी 64 प्रतिशत भारतीय पुरूषों की सोच! महिलाओं की समाज में मुख्य भूमिका एक अच्छी मां और पत्नी बनना

ANITA TANVI

महिलाएं तो आगे बढ़ गयीं लेकिन नहीं बदली पुरूषों की सोच

Share

बिहार के बाद गुजरात चुनाव में होगा पक्षपाती चुनावी सर्वे का लिटमस टेस्ट

Manoj Kumar

यूं तो भारत में चुनावी सर्वे का इतिहास बहुत पुराना नहीं है, पर इसकी विश्वसनीयता संदिग्ध है. जहां चुनाव नजदीक होता है, वहां तो यह सर्वे केवल विजेता राजनीतिक दल के पर्सेप्सन को बनाने का काम करती हैं.

Share

Pages

loading...
Subscribe to RSS - Opinion