Skip to content Skip to navigation

Add new comment

सीबीआई ने दो होटलों के ठेका मामले में तेजस्वी यादव से की पूछताछ

News Wing

New Delhi, 06 )ctober: साल 2006 में आईआरसीटीसी के दो होटलों के रखरखाव के लिए, ठेका देने के मामले में कथित भ्रष्टाचार के सिलसिले में, सीबीआई ने आज पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद के बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से पूछताछ की.

कल सात घंटे हुई थी लालू से पूछताछ

आज जांच टीम के सामने पेश होने से पहले 27 साल के तेजस्वी को तीन बार नोटिस जारी किया गया था, लेकिन वह इससे पहले एजेंसी के सामने पेश नहीं हुए . तेजस्वी आज निर्धारित समय सुबह 11 बजे सीबीआई मुख्यालय पहुंचे. कल एजेंसी ने लालू से करीब सात घंटे तक पूछताछ की थी.

लालू ने तीन एकड़ महंगी जमीन रिश्वत के रूप में ली

इस मामले में आरोप है कि लालू ने रेल मंत्री रहते हुए रेलवे की सहयोगी इकाई आईआरसीटीसी द्वारा संचालित दो होटलों- बीएनआर रांची और बीएनआर पुरी की देखरेख का जिम्मा, एक निजी फर्म सुजाता होटल को सौंपा और बदले में एक बेनामी कंपनी के जरिए पटना में तीन एकड़ की महंगी जमीन के रूप में रिश्वत ली. सुजाता होटल का स्वामित्व विनय और विजय कोचर के पास है.

धोखे से दोनों होटलों के लिए ठेका दिया

प्राथमिकी में आरोप लगाया गया कि राजद नेता ने कोचर को अनुचित फायदा पहुंचाने के लिए, अपने आधिकारिक पद का दुरूपयोग किया और बेनामी डिलाइट मार्केटिंग कंपनी के जरिए ऊंची कीमत की प्रीमियम जमीन हासिल की. इस लेनदेन में उन्होंने बेईमानी और धोखे से दोनों होटलों के लिए उन्हें ठेका दिया.

डिलाइट मार्केटिंग का हक राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव के पास

सुजाता होटल को ठेका दिए जाने के बाद 2010 से 2014 के बीच डिलाइट मार्केटिंग का मालिकाना हक भी, सरला गुप्ता के पास से राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव के पास चला गया.

 

Share
loading...