Skip to content Skip to navigation

Add new comment

हजारीबागः कटकमसांडी में बने पानी टावर का इस्तेमाल नहीं, दूसरा टावर भी बनकर हुआ जर्जर, अब उसे तोड़ कर बना रहे तीसरा

NEWSWING

Hazaribagh, 13 October : हजारीबाग कटकमसांडी मुख्य मार्ग पर लाखों रूपये की राशि से बने मजार के ऊपर बनी पानी की टावर फेल हो गयी. इस पानी की टावर को बने लगभग दो साल बीत गए. लेकिन ग्रामीणों को एक दिन भी इस टावर का पानी नसीब नहीं हुआ. पाइप द्वारा सैकड़ों घरों में नल लगाया गया लेकिन पानी एक दिन भी नहीं पहुंचा. पानी टावर की इस समस्या पर किसी भी अधिकारी या मुखिया का ध्यान नहीं गया.

नये टावर को तोड़ कर फिर से बनवा रहे मुखिया

वहीं इसी पंचायत में फिर से एक पानी टावर पेलावल दक्षिणी पंचायत में बनाया गया. यह टावर मुखिया नूर जहां और बिचौलियों द्वारा बनाया गया. टावर से पानी मिलता उससे पहले ही वह टावर भी फेल हो गया.  यह टावर अब गिरने के कगार पर है. जब जनता ने प्रसाशन से शिकायत दर्ज कराया तो उसे फिर से तोड़ा जा रहा है, ताकि टावर के कारण कभी कोई अप्रिय घटना ना घटे. जब न्यूज़ विंग को जनता की शिकायत मिली तो स्थिति का जायाजा लेने रिपोर्टर स्थल पर पहुंचे. न्यूज विंग ने जनता की शिकायत को सही पाया. वहां मुखिया नूर जहां द्वारा बनवाये गये पानी के टावर को तोड़ा जा रहा था. मजदूर हथौड़ा चलाकर उसे तोड़ रहे थे. अब बात यह है कि टावर पहले बनी पर चालू नहीं हुई. अब उस टावर को तोड़ कर फिर से बनवाया जायेगा. जिसमें सरकार के लाखों रूपये फिर से खर्च होंगे. आखिर सरकारी पैसों का इस तरह से बंदरबांट कबतक होता रहेगा. 

Lead
City List: 
Share
loading...