Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

Add new comment

जेइइ एडवांस्ड 2018 : एक उम्मीदवार दो ही बार दे सकता है परीक्षा

कुमार राहुल

आइआइटी के द्वारा शनिवार को जेइइ एडवांस्ड परीक्षा से संबंधित मापदंड जारी किया गया. मापदंड आइआइटी कानपुर के द्वारा जारी किया गया है. गौरतलब हो कि आइआइटी कानपुर ही इस वर्ष जेइइ एडवांस्ड परीक्षा आयोजित कर रही है. जारी गाइड लाइन के अनुसार एक उम्मीदवार लगातार दो बार ही जेइइ एडवांस्ड की परीक्षा में बैठ सकता है.

2.24 लाख विद्यार्थियों का चयन विभिन्न कैटेगरी से अलग-अलग संख्या में किया जायेगा

वहीं जेइइ मेन पास शीर्ष 2.24 लाख उम्मीदवार जेइइ एडवांस्ड में शामिल होंगे. इन 2.24 लाख विद्यार्थियों का चयन विभिन्न कैटेगरी से अलग-अलग संख्या में किया जायेगा. जिसमें ओबीसी-एनसीएल से 27 फीसदी, एससी से 15 फीसदी, एसटी से 7.5 फीसदी और ओपन कैटेगरी से 50.5 फीसदी उम्मीदवारों का चयन किया जायेगा. इसके अलावा पांच फीसदी आरक्षण अतिरिक्त रूप से पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए होगा. उम्रसीमा की बात करें, तो सामान्य आवेदकों का जन्म एक अक्तूबर 1993 को या इसके बाद होना चाहिए. आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को उम्रसीमा में पांच साल की छूट दी जायेगी. यानि आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों का जन्म एक अक्तूबर 1988 को या इसके बाद हुआ हो.  

 

तीन नयी बातों के साथ विद्यार्थी देंगे परीक्षा

देश में मौजूद 23 आइआइटी और अन्य केंद्र स्तर की तकनीकी संस्थानों के लिए हर वर्ष जेइइ एडवांस्ड परीक्षा का आयोजन किया जाता है. आइआइटी कानपुर ने इस वर्ष तीन नयी बातों को जेइइ एडवांस्ड परीक्षा के साथ जोड़ा है. 2013 से शुरू हुई जेइइ एडवांस्ड परीक्षा में हर साल कुछ न कुछ नयी बात को जोड़ा जाता है.  इस बार की परीक्षा में भी उम्मीदवारों को तीन नयी बातों के साथ परीक्षा देना होगा. इन तीन नयी बातों में रजिस्ट्रेशन फीस में बढ़ोत्तरी, छात्रों की संख्या में बढ़ोत्तरी के अलावा केवल ऑनलाइन परीक्षा होना शामिल है.

 

यह हैं तीन नयी बातें :-



देनी होगी बढ़ी हुई फीस

अद्यतन सूचना के मुताबिक इस वर्ष जेइइ एडवांस्ड परीक्षा के रजिस्ट्रेशन को बढ़ा दिया गया है. अब छात्रों को अब इस बढ़ी हुई फीस के अलावा जीएसटी भी देना होगा. जीएसटी के रेट रजिस्ट्रेशन के समय सरकार तय करेगी. यह फैसला आइआइटी कानपुर द्वारा लिया गया है. अभी तक जनरल कैटेगरी के विद्यार्थियों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस 2400 रुपये थी जो अब बढ़ाकर 2600 कर दी गयी है. इसी तरह, लड़कियों, दिव्यांगों और एससी-एसटी उम्मीदवार के लिए अब तक फीस 1200 रुपये थी जो अब 1300 रुपये कर दी गयी है. इस फीस के अलावा छात्रों को जीएसटी भी देना होगा. हालांकि इससे संबंधित सूचना जेइइ एडवांस्ड के वेबसाइट पर नहीं आयी है.

चार हजार अधिक छात्रों को अवसर

जेइइ एडवांस्ड 2018 में दूसरी बड़ी बात में चार हजार अधिक विद्यार्थियों को शामिल होने का अवसर देना है. वेबसाइट पर दी गयी सूचना के मुताबिक इस वर्ष जेइइ मेन से सफल शीर्ष 2.24 लाख विद्यार्थी जेइइ एडवांस्ड परीक्षा दे सकेंगे. गौरतलब हो कि जेइइ मेन की परीक्षा आठ अप्रैल 2018 को होनी है. पिछले वर्ष दो 20 हजार विद्यार्थियों को जेइइ मेन से जेइइ एडवांस्ड में शामिल किया गया था. 2013 से लेकर 2018 तक छात्रों की संख्या में बढ़ोत्तरी की गयी है.

ऑनलाइन ही होगी परीक्षा

इस वर्ष से जेइइ एडवांस्ड परीक्षा पूरी तरह से ऑनलाइन ली जायेगी. अब तक यह परीक्षा पेन-पेपर के अलावा कंप्यूटर आधारित भी लिया जाता था. यह परीक्षा दो पेपर की होगी. जो पेपर वन और पेपर टू कहलाती है. दोनों ही पेपर के सवालों को हल करने के लिए विद्यार्थियों को प्रति पेपर तीन-तीन घंटे का समय दिया जायेगा. जेइइ एडवांस्ड परीक्षा के दोनों पेपर अनिवार्य हैं.

 

 

Lead
Share
loading...

Ranchi News

News Wing

Ranchi, 23 November: झारखंड की बदहाल उच्च शिक्षा व्यवस्था के खिलाफ आम आदमी...

HAZARIBAG

News Wing

Hazaribag, 21 November: केंद्रीय उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा के होम टा...