Skip to content Skip to navigation

Add new comment

त्रिपुरा में एक और पत्रकार की हत्या, कमांडेंट के PSO ने मारी गोली

NEWS WING

Tripura, 21 NOVEMBER : देश में आज एक और पत्रकार की हत्या कर दी गयी. पत्रकार का नाम सुदीप दत्ता भौमिक है, जिन्हें 2nd त्रिपुरा स्टेट राइफल के जवान ने गोली मार दी. बीते दो महीने में यह दूसरी घटना है. हत्याकांड की यह घटना अगरतला से 20 किलोमीटर दूर आरके नगर की है.

कमांडेंट के पीएसओ ने सुदीप पर गोली चलायी

दरअसल अगरतला के प्रमुख बंगाली अखबार स्यंदन पत्रिका के संपादक सुबल डे ने इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बात करके बताया कि हमारे अखबार के वरिष्ठ पत्रकार सुदीप दत्ता भौमिक आरके नगर 2nd त्रिपुरा स्टेट राइफल के कमांडेट से अपॉइंटमेंट मिलने के बाद मिलने गए थे. लेकिन जब वे वहां पहुंचे तो उनकी कमांडेट के पीएसओ से ऑफिस के बाहर तकरार हो गई. जिसमें पीएसओ ने सुदीप पर गोली चला दी. सुदीप की मौके पर ही मौत हो गई.

यह भी पढ़ें : त्रिपुरा में टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या, बीजेपी समर्थक पार्टी पर आरोप

20 सितंबर को भी पत्रकार शांतनु भौमिक की भी हुई थी हत्या

बता दें कि 21 सितंबर को त्रिपुरा में एक लोकल टीवी चैनल में काम करने वाले पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या कर दी गई थी. पुलिस के अनुसार, कथित तौर पर बीजेपी समर्थक आदिवासी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने शांतनु भौमिक की हत्या की.

पुलिस अधीक्षक नागेंद्र देव वर्मा ने बताया था कि त्रिपुरा राजेर उपजाति गण मुक्ति परिषद (टीआरयूजीपी) के समर्थक जीएमपी की एक रैली में शामिल होने के लिए अगरतला जा रहे थे और खोवई में बस स्टैंड पर इकट्ठा हुए थे. वहां इंडीजिनस पीपल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) के कार्यकर्ताओं का एक समूह भी मौजूद था, जिन्हें रैली के बारे में पता चला और वे कथित रूप से भड़क गए.

उन्होंने बताया था कि तब अन्य लोगों ने बीच-बचाव किया और बात नहीं बढ़ी. लेकिन जब बस छानखोला गांव से कुछ दूरी पर थी तब जंगल में छिपे आईपीएफटी के कुछ कार्यकर्ताओं ने वाहन पर हमला किया. उन्होंने जीएमपी कार्यकर्ताओं पर लोहे की छड़ों और डंडों से हमला किया. घटना के बाद मंडाई के साथ-साथ पश्चिमी त्रिपुरा के 10 से अधिक जगहों पर धारा 144 लागू कर दी गई थी.

Top Story
Share
loading...