जो पूछना है हमसे पूछो, मेरी पत्नी से नहीं : विधायकपति योगेंद्र महतो

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 06/01/2018 - 19:20

Divy/Akshay

-     छठी पास बबीता देवी बनी हैं गोमिया से विधायक

-     गोमिया से पहली बार कोई महिला बनी हैं विधायक

Bokaro : गोमिया की जनता ने भले ही वोट जेएमएम की उम्मीदवार बबीता देवी को दिया है. भले ही जीत का सेहरा बबीता देवी के सर पर सजाया हो. लेकिन जनता को जवाब बबीता देवी नहीं बल्कि उनके पति पूर्व विधायक योगेंद्र महतो ही देंगे, अगर कोई उनकी पत्नी से सवाल पूछेगा तो वो आग-बबूला हो जाएंगे. जीत के दिन योगेंद्र महतो ने मीडिया के सामने जिस तरह के व्यवहार किया इससे तो यही अंदाजा लगाया जा सकता है. 31 तारीख वोटों की गिनती के दिन बोकारो में जनता का फैसला आने के बाद योगेंद्र महतो अपनी पत्नी के साथ मीडिया के सामने आये. मीडिया ने बधाई देने के बाद चंद सवाल बबीता देवी से पूछे, इतने पर योगेंद्र महतो भड़क गये और मीडिया के लोगों को डांटते हुए कहा कि जो पूछना है हमसे पूछो, मेरी पत्नी से नहीं. इतना कहते हुए गुस्से में उन्होंने मीडिया को अपने तरफ बुला लिया. मीडिया से किसी ने इस घटना के बाद योगेंद्र महतो को ही विधायक कह कर संबोधित किया. तब जाकर योगेंद्र महतो का गुस्सा शांत हुआ और उन्होंने पूराने तेवर में मीडिया के सवालों के जवाब देना शुरू किया. इतना सब जब हो रहा था तो, गोमिया की विधायक बबीता देवी योगेंद्र महतो के पीछे खड़ी थी. इस घटना के बाद उन्होंने मीडिया से कोई बात नहीं की.

इसे भी पढ़ें - जीत से जेएमएम को मिली नयी ताकत, 10वें राउंड के बाद बबीता ने पीछे मुड़कर नहीं देखा

बुलाओ सभी मीडिया को हम देंगे जवाब : योगेंद्र

मीडिया के सवालों से आग-बबुला हुए योगेंद्र महतो ने कहा कि सभी सवाल आज ही पूछोगे, हमसे पूछो जो सवाल पूछना है, बुलाओ सब मीडिया को हम देंगे सबका जवाब”. आगे मीडिया से बात करते हुए योगेंद्र महतो ने कहा कि मेरी पत्नी मेरे ही नक्शेकदम पर चलेगी, मेरे नक्शेकदम पर चलकर मेरे अधूरे काम को पूरा करेगी. अब हमलोग दो शरीर और चार हाथ हैं. इतना कहने के बाद उनका गुस्सा शांत हुआ और मीडिया को अलविदा कहा.

बधाई के गुलदस्ते भी विधायक पत्नी को नहीं लेने दिया

उनके साथ दिन भर घूमने वालों का कहना था कि जैसे ही उनकी पत्नी गोमिया की विधायक बनीं, उनके तेवर बदल गये. भीड़े से हमेशा विधायक को दूर रखने की कोशिश की. यहां तक कि विधायक को जीत के बाद बधाई के तौर पर जो गुलदस्ते बबीता देवी के लिए दिये जा रहे थे, उन्हें भी योगेंद्र महतो खुद ले रहे थे. कहने वाले ये कह रहे थे कि योगेंद्र महतो को विधायक पति से ज्यादा पूर्व विधायक सुनना अच्छा लगता है. बताते चलें कि गोमिया विधायक बबीता देवी (39) वे 1344 वोटों से आजसू उम्मीदवार लंबोदर महतो को हराया है. उन्होंने रामगढ़ के सरकारी स्कूल से छठी तक की पढ़ाई की है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म