भू-अर्जन पदाधिकारी के साथ मारपीट करने वाले भाजपा विधायक साधु चरण महतो टीएमएच से गिरफ्तार

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 03/14/2018 - 20:55

Jamshedpur : ईचागढ़ के भाजपा विधायक साधु चरण महतो को पुलिस ने जमशेदपुर के टीएमएच अस्पताल से गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि साधु चरण महतो बीमार थे और टीएमएच में अपना इलाज करा रहे थे. सूचना मिलने पर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया. पुलिस को प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मारपीट मामले में तलाश थी. पुलिस ने विधायक के खिलाफ कोर्ट से वारंट भी हासिल किया था. माना जा रहा है कि राज्यसभा चुनाव को देखते हुये उन्होंने टीएमएच में भर्ती होकर खुद को गिरफ्तार करा लिया, क्योंकि फरार रहने की स्थिति में अगर वह राज्यसभा चुनाव में वोट करने आते तो सरकार पर सवाल उठता. अब या तो उन्हें जमानत मिल जायेगी या फिर कोर्ट के आदेश पर वे पुलिस सुरक्षा में वोट डाल पायेंगे.

इसे भी पढ़ें -बीजेपी विधायक साधु चरण महतो ने सुबह में भू-अर्जन पदाधिकारी दीपू कुमार को दी धमकी और दोपहर में पीटा

इसे भी पढ़ें -क्या रघुवर दास भी दिल्ली की तरह झारखंड में भी अफसर को पीटने वाले विधायक साधुचरण महतो को गिरफ्तार करायेंगे !

22 फरवरी को भू-अर्जन पदाधिकारी के साथ की थी मारपीट

22 फरवरी को ईचागढ़ विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक साधु चरण महतो ने सरायकेला के भू-अर्जन पदाधिकारी दीपू कुमार के साथ मारपीट की थी. सुबह करीब 10:30 बजे साधु चरण महतो ने भू-अर्जन पदाधिकारी दीपू कुमार को फोन किया और कहा कि रघुनाथपुर में मुआवजा बांटने का कोई कैंप लगाए हो क्या. अधिकारी ने कहा कि डीसी का आदेश है, कैंप लगा कर मुआवजा बांटने का. इसलिए कैंप लगाया जा रहा है. इसपर विधायक आग बबूला हो गए थे और कहा कि आओ तुम वहां तुमको बंधवाते हैं. इतना ही नहीं विधायक ने कहा था कि आज खूंटी की ही तरह तुम लोगों को बंधक बनाया जाएगा. अधिकारी लगातार जी सर...जी सर करते जा रहे थे. विधायक ने कहा कि मेरे क्षेत्र में ज्यादा अफसरगिरी मत करो. डीसी को भी बोल देना जो हम बोल रहे हैं. 

इसे भी पढ़ें -उज्‍जवला योजना : 45 दिनों 15 लाख लाभुकों को गैस कनेक्‍शन, 2 महीने में 312 नये एलपीजी डीलर का लक्ष्‍य -रघुवर दास        

गाड़ी से विधायक जी उतरे और अधिकारी को जमीन पर बैठने को कहा था

कैंप लगाकर एनएच 32 की मुआवजा राशि देने के काम भू-अर्जन पदाधिकारी कर रहे थे. करीब 12:40 बज रहे थे. बीजेपी विधायक की गाड़ी कैंप वाले स्थान पर पहुंची. विधायक गाड़ी से उतरते ही अधिकारी के तरफ बढ़े. भू-अर्जन पदाधिकारी दीपू कुमार से कहा कि वो जमीन पर बैठ जाएं. अधिकारी ने जवाब दिया कि जमीन पर बैठने का कोई कारण नहीं है. इसी पर विधायक अधिकारी की तरफ के झपटे और हाथापाई शुरू हो गयी. हाथापाई के दौरान अधिकारी का शर्ट फट गया और वाहन का शीशा भी टूट गया था.

इसे भी पढ़ें - रिम्स के गार्ड सुपरवाइजर ने जहर खाकर की खुदकुशी : बेटी की शादी को लेकर रहता था चिंतित

विधायक की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े थे प्रशासनिक अधिकारी

22 फरवरी को सरायकेला-खरसावां के जिला भू-अर्जन पदाधिकारी के साथ मारपीट  के मामले में निचली अदालत से वारंट जारी होने के बाद फरार चल रहे ईचागढ़ से भाजपा विधायक साधु चरण महतो की गिरफ्तारी की मांग पर कोल्हान क्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारी अड़े हुए थे. पांच मार्च को भी अधिकारियों ने काला बिल्ला लगाकर अपने अपने कार्यालयों में काम किया. पूर्वी सिंहभूम, पश्चिम सिंहभूम व सरायकेला खरसावां जिले के सभी प्रखंडों और जिला मुख्यालयों में विरोध का यह नजारा देखा गया था. सरायकेला खरसावां के एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने कहा था कि विधायक साधुचरण महतो की तलाश जारी है. सटीक सूचनाएं नहीं मिलने के कारण गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है. सादी वर्दी में कई जगह पुलिस तैनात की गयी है. लेकिन झारखंड प्रशासनिक सेवा संघ का आरोप है कि पुलिस छापेमारी का नाटक कर रही है. सियासी दबाव के कारण विधायक की गिरफ्तारी नहीं हो रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.