पैक्स का लोन नहीं चुकाया तो बीजेपी नेता गये जेल, भाजपा ने पुलिस पर लगाया घपलेबाजों से सांठगांठ का आरोप

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 05/07/2018 - 19:14

Chatra : सदर थाना पुलिस ने वर्ष 2008 के एक पुराने मामले में सोमवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री गोविंद राम दांगी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. भाजपा नेता पर पैक्स से पंद्रह हजार रुपया लोन लेकर वापस नहीं करने का आरोप है. इनके विरुद्ध पैक्स के पूर्व अध्यक्ष सह राजद नेता चंद्रदेव गोप ने वर्ष 2017 में न्यायालय में कंप्लेन केस दर्ज कराया था. पैक्स अध्यक्ष द्वारा कंप्लेन केस में लगाए गए आरोपों को सही मानते हुए पुलिस ने कार्रवाई की है.

घोटालेबाज पैक्स अध्यक्ष से सांठगांठ कर सामाजिक कार्यकर्ताओं को परेशान कर रही पुलिस : बीजेपी

किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री को सदर थाना पुलिस द्वारा जेल भेजने के बाद भाजपा में भूचाल आ गया है. भाजपा नेताओं के एक गुट ने परिसदन भवन में आपात बैठक कर पुलिस पर पैसे लेकर बगैर जांच के केस को ट्रू करते हुए एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया है. भाजपा नेताओं ने कहा है कि चतरा पुलिस पैक्स के माध्यम से गरीबों का करोड़ों रुपया गटकने वाले घोटालेबाज पूर्व पैक्स अध्यक्ष चंद्रिका यादव से सांठगांठ कर सामाजिक कार्यकर्ताओं को परेशान कर रही है.

इसे भी पढ़ें- बकोरिया कांडः मानवाधिकार आयोग ने अधिवक्ता से पूछा पहले क्यों नहीं उपलब्ध कराये तथ्य 

करोड़ो के गबन के आरोपी के बजाय शिकायतकर्ता को जेल भेजने का आरोप

सांसद प्रतिनिधि अजय सिंह ने कहा है कि विभागीय जांच में करोड़ों रुपए का घोटाला उजागर होने के बाद भी पूर्व पैक्स अध्यक्ष सह राजद नेता चंद्रदेव गोप खुलेआम घूम रहा है. वही इस बड़े घोटाले को उजागर करने वाले भाजपा नेता को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. अजय सिंह ने कहा कि चतरा पुलिस के पदाधिकारी पैसे के बल पर घर बैठे केस का सुपरविजन कर रहे हैं. इसी का नतीजा है कि बगैर जांच पड़ताल के भाजपा नेता पर राजद नेता द्वारा लगाए गए आरोपों को सत्य मानते हुए ये कार्रवाई की गई है. भाजपा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विनय सिंह ने कहा कि प्रदेश व केंद्र में भाजपा की सरकार होने के बावजूद भाजपा नेताओं व सामाजिक कार्यकर्ताओं को झूठे मुकदमे में फंसा कर पुलिस जेल भेज रही है. इससे स्पष्ट होता है कि देश व प्रदेश में लोकतंत्र के आगे अफसरशाही हावी है. उन्होंने राज्य सरकार से मामले की उच्चस्तरीय जांच और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है.

डीसी व एसपी से मिलेगा प्रतिनिधिमंडल

सदर थाना पुलिस द्वारा एकतरफा कार्रवाई करते हुए भाजपा नेता को जेल भेजने व बगैर जांच पड़ताल के केश ट्रू करने की शिकायत लेकर नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक से मिलेगा.

इसे भी पढ़ें- बिजली हेल्‍पलाइन झारखंड का हाल बेहाल : कभी कॉल पटना ट्रांसफर, तो कभी होल्‍ड पर रहने का निर्देश  

गोविंद की शिकायत पर ही हुआ था घोटाला उजागर

रक्सी-खरीक पैक्स के पूर्व अध्यक्ष राजद नेता चंद्रदेव गोप द्वारा पैक्स में करोड़ो रुपये के गबन का खुलासा भाजपा नेता गोविंद राम दांगी द्वारा दर्ज आरटीआई के बाद ही हुआ था. चंद्रदेव गोप द्वारा पैक्स की राशि के गबन की शिकायत गोविंद ने ही लोकायुक्त से की थी, जिसके बाद लोकायुक्त के निर्देश पर जांच कमिटी गठित कर आरोपों की जांच कराई गई थी. जांच के दौरान ही कमिटी ने घोटाला पकड़ते हुए अपनी जांच रिपोर्ट लोकायुक्त को समर्पित किया था. उसके बाद लोकायुक्त ने आरोपी पैक्स अध्यक्ष चंद्रदेव गोप के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश सहकारिता विभाग को दिया था. हालांकि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाजवजूद घोटालेबाज पैक्स अध्यक्ष की गिरफ्तारी नहीं हुई.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na