बहरागोड़ा : विधायक की पहल पर छह दिन बाद तमिलनाडु के कोयम्बटूर से पाथरघाटा गांव पहुंचा युवक का शव

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 05/13/2018 - 19:52

Bahragoda : बहरागोड़ा प्रखण्ड के पारुलिया पंचायत के पाथरघाटा गांव के 28 वर्षीय ब्रजेन मुंडा की तमिलनाडु के कोयम्बटूर के पास स्थित गेबेरो कॉस्टिंग में काम करने के दौरान पिछले हफ़्ते करंट लगने से मौत हो गई थी. परिवार वालों ने विधायक को सूचना दी थी. विधायक की पहल पर 6 दिनों के बाद मृतक का शव पाथरघाटा गांव पहुंचा. विधायक गांव पहुँचे और उसके पिता परेश मुंडा और परिजनों से मिलकर आर्थिक मदद की और शोक जताया.

इसे भी पढ़ें : साहिबगंज : मदर्स डे पर एक दलित गरीब मां की गुहार, मेरे जवान बेटे को बचा लीजिए सरकार

डेढ़ माह पहले ही काम करने गया था

ब्रजेन के पिता ने बताया कि डेढ़ माह पहले वह काम करने गया था. कम्पनी वालों ने मदद का भरोसा दिया है. विधायक ने पंचायत के मुखिया सुधीर मुंडा को पारिवारिक लाभ सह ब्रजेन की पत्नी के लिए विधवा पेंशन संबंधी कागजी कार्यवाही पूरा करने को कहा. उन्होंने कहा कि दुख की घड़ी में पूरा झामुमो परिवार पीड़ित परिवार के साथ है. विधायक ब्रजेन की शवयात्रा में भी शामिल हुए. इस मौक़ा पर मुखिया सुधीर मुंडा, बबलू साव, पियुष नंदी, जयदीप आईच, शक्तिपद सोम एवं अभिजीत दास सहित कई झामुमो कार्यकर्ता उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na