दुमका में पत्‍थर माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 48 ट्रक पकड़े गये, फर्जी चालान बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 05/04/2018 - 12:45

Ranchi:  दुमका जिले में इन दिनों पत्‍थर माफियाओं में खलबली मची हुई है. जिला प्रशासन ने अवैध तरीके से पत्‍थर ढुलाई करने वाले कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करना शुरू किया है. इस दौरान 2 मई बुधवार के दिन 48 ट्रकों को पकड़ा गया. साथ ही एक फर्जी चालान बनाने वाले गिरोह का भी भंडाफोड़ किया है. यहां से दूसरे जिले और राज्‍यों में भारी मात्रा में पत्‍थर अवैध तरीके से सप्‍लाई किया जा रहा था. इससे सरकार को राजस्‍व का भी नुकसान हो रहा था.

यह घटना शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के मोहलपहाड़ी जोड़ा लाइन होटल के पास की है. बुधवार के दिन यहां बगैर कागजात एवं माइनिंग चालान के पत्थर चिप्स लदे 48 ट्रकों को पकड़ा गया था. हालांकि इसमें से 31 ट्रक देर रात को फरार हो गये. जिला स्तरीय टीम द्वारा जब्त 48 ट्रकों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गयी थी. थाना प्रभारी मनोज कुमार ठाकुर ने बताया कि 31 ट्रक लेकर भाग गए. 31 ट्रकों के मालिक एवं चालकों के विरूद्ध ट्रक लेकर भाग जाने का अलग से मामला दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ें - लालू से मिलने पहुंचे हेमंत, कहा- रिम्स लाने के पीछे सरकार की मंशा समझ से परे 

खनन माफियाओं के लिए फर्जी चालान बनाने वाले गिरोह के खिलाफ कार्रवाई

ंिुवलंिुवल
खनन माफिया पर कार्रवाई

दुमका जिला प्रशासन ने पत्थर माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई की है. बुधवार की देर शाम जिला प्रशासन की संयुक्त टीम ने रामपुर हाट-दुमका मुख्य मार्ग पर ट्रकों के चालान कागजात जांचकर 60 गिट्टी लदे ट्रकों को जब्त कर लिया गया.

गौरतलब है कि जिला प्रशासन की टीम की इस बड़ी कार्रवाई में एक शख्स को भी धर दबोचा गया है. जो फर्जी चालान ट्रकों को दिया करता था. पकड़े गए युवक के पास से एक लैपटॉपप्रिन्टरमुहर तथा होलोग्राम स्टीकर भी बरामद किया गया है. पकड़े गए युवक का नाम उत्तम मंडल है.

इसे भी पढ़ें - 9 सामाजिक कार्यकर्ताओं ने किया खूंटी का दौरा, कहा, " पत्थलगड़ी असंवैधानिक नहीं "

ुवरकुव
खनन माफिया पर कार्रवाई

बताया जाता है कि यह पासिंग के धंधे के साथ-साथ ट्रकों को फर्जी दस्तावेज उपलब्ध कराने का काम करता था. जिला प्रशासन की संयुक्त टीम की इस बड़ी कार्रवाई से पत्थर माफियाओं में हडकंप मच हुआ है. वहीं जिला प्रशासन इस कार्रवाई को बड़ी सफलता मान रही है और इस तरह के अवैध कारोबारियों पर नकेल से राजस्व की बढ़ोतरी होगी. साथ ही ऐसे माफिया पर अंकुश भी लगेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

top story (position)