बिहार : NRI पति पर पत्नी और बच्ची को मारपीट कर घर से निकालने का आरोप

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/17/2018 - 10:53

Patna: केंद्र सरकार की सख्ती के बावजूद आये दिन एनआरआई  पति द्वारा  महिलाओं को प्रताड़ित करने के मामले सामने आ रहे हैं.  पटना के रहने वाले और कुवैत में ऑयल कंपनी में कार्यरत एनआरआई विशाल कुमार पर उसकी पत्नी सोनी कुमारी ने मारपीट करने और उसे व उसकी पांच साल की बच्ची को घर से निकालने का आरोप लगाया है. विशाल का घर कदमकुआं थाने के राजेंद्र नगर रोड नंबर 12 में है. घर से निकलने के बाद पत्नी सोनी कुमारी राजाबाजार के एक होटल में रह रही है. इस संबंध में महिला ने 12 फरवरी को महिला थाना में पति विशाल कुमार, सास कुमारी उषा व ससुर विजय नारायण सिंह के खिलाफ केस करवाया है. पत्नी के बयान पर दहेज प्रताड़ना, हत्या के प्रयास के लिए आईपीसी की धारा 498 ए/ 307/ 313/509 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया  है. महिला थानाध्यक्ष विभा कुमारी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और कानूनी कार्रवाई की जा रही है. गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की गयी, लेकिन अभी सभी फरार है. 

 इसे भी पढ़ें: विदेश में रह रही बेटियों का शोषण, हर आठ घंटे में एक बेटी से हो रहा अत्याचार

क्या है लिखित शिकायत में

 पत्नी ने महिला थाना पुलिस को दी गयी लिखित शिकायत में बताया है कि उसकी शादी 2012 में विशाल कुमार से हुयी थी. शादी के बाद से ही दहेज को लेकर उसे प्रताड़ित किया जाता रहा है. वह जब पहली बार मां बनने वाली थी तो जबरन उनका गर्भपात करा दिया था. उसके पति की पोस्टिंग पहले दुर्गापुर थी. दुर्गापुर के बाद उनकी पोस्टिंग  चेन्नई में हो गयी. वहां मैंने एक बेटी को जन्म दिया.इसके बाद उनकी नौकरी कुवैत में लग गयी और 2017 में वह उनके साथ वहां चली गयी. लेकिन मारपीट का सिलसिला वहां भी जारी रहा. मारपीट के साथ ही मुझे जबरन नशा की गोली दी गयी और प्रताड़ित किया गया. इसके बाद मैंने कुवैत में इंडियन एंबेसी से शिकायत की और फिर वहां से मैं किसी तरह से भारत आ गयी. पुलिस ने भी मुझे ससुराल में रखवाने का प्रयास किया. लेकिन पुलिस के सामने ही उनके घरवालों ने मुझे घर में रखने से मना कर दिया.

 इसे भी पढ़ें: पत्नी को छोड़कर भागने वाले NRI दूल्हों पर नकेल कसने को लेकर तैयारी कर रही सरकार, घोषित होगें भगोड़े

किये गये हैं कई बदलाव

गौरतलब है कि अपनी पत्नी को भारत में छोड़कर भागने वालों पर और कोर्ट के द्वारा समन के बाद भी तीन बार पेश नहीं होने पर उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया जायेगा. साथ ही भारत में जो भी उस दूल्हे और उसके परिवार की संपत्ति है उसे भी सील किया जा सकता है. विदेश मंत्रालय ने एनआरआई दूल्हों पर नकेल कसने के लिए कानून में बदलाव के लिए कानून मंत्रालय को पत्र भी लिखा है.  केंद्र सरकार अब गंभीर होती नजर आ रही है. इसको लेकर केंद्र सरकार ने सख्ती की तैयारी कर ली है. सरकार कोड ऑफ क्रिमिनल प्रॉसिजर (सीआरपीसी) में बदलाव की तैयारी में है.

 इसे भी पढ़ें: 3,328 भारतीय महिलाओं ने दर्ज करायी एनआरआई पतियों के साथ मतभेद की शिकायतें

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी  

बीजेपी के किस एमपी को मिलेगा टिकट, किसका होगा पत्ता साफ? RSS बनायेगा भाजपा सांसदों का रिपोर्ट कार्ड

आतंकियों की आयी शामतः सीजफायर खत्म, ऑपरेशन ऑलआउट में दो आतंकी ढेर- सर्च ऑपरेशन जारी

दिल्ली: अनशन पर बैठे मंत्री सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबियत, आधी रात को अस्पताल में भर्ती

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब

सूचना आयोग में अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगी सुनवाई, मोबाइल ऐप से पेश कर सकते हैं दस्तावेज

झारखंड को उद्योगपतियों के हाथों में गिरवी रखने की कोशिश है संशोधित बिल  :  हेमंत सोरेन

जम्मू-कश्मीर : रविवार से आतंकियों व अलगाववादियों के खिलाफ शुरु हो सकता है बड़ा अभियान

उरीमारी रोजगार कमिटी की दबंगई, महिला के साथ की मारपीट व छेड़खानी, पांच हजार नगद भी ले गए

विपक्ष सहित छोटे राजनीतिक दलों को समाप्त करना चाहती है केंद्र सरकार : आप