चतरा : राज्य संपोषित बालक उच्च विद्यालय में ठोस अपशिष्ठ प्रबंधन की दी गयी जानकारी

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 04/07/2018 - 16:53

Chatra : कार्यालय नगर परिषद, चतरा के बैनर तले सात अप्रैल को राज्य संपोषित बालक उच्च विद्यालय में ठोस अपशिष्ठ प्रबंधन की जानकारी दी गयी. इस क्रम में बच्चों को घर-घर कूड़ा संग्रह के बारे में बताया गया. इस अवसर पर नगर विकास एवं आवास विभाग के स्वच्छता विशेषज्ञ विक्की चौधरी ने छात्रों को बताया कि डोर टू डोर गीला व सूखा कचरा अलग-अलग रखने और संग्रह करने के क्या-क्या फायदे हैं. 

इसे भी पढ़ें: BJP स्थापना दिवस पर वाजपेयी को श्रद्धांजलि- तस्वीर पर माल्यार्पण, वायरल हुआ फोटो

कंपोस्ट पीट बना कर किया जायेगा खाद बनाने का काम

नगर परिषद चतरा द्वारा कंपोस्ट पीट बना कर खाद बनाने का काम भी जल्द किया जायेगा. सिटी मिशन मैनेजर संजीत कुमार साहू ने बताया कि नगर परिषद चतरा अंतर्गत निर्देश दिया गया है कि क्षेत्र के नागरिक, आवासीय क्षेत्र और व्यावसायिक प्रतिष्ठान अपने यहां गीले व सूखे कचरे को अलग-अलग दो भागों में बांट कर रखें. 10 अप्रैल से नगर परिषद कूड़ा संग्रह करने वाले वाहनों को घर-घर तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों पर भेज कर गीला व सूखा कूड़ा का संग्रह करेगा. गीला व सूखा कूड़ा हर हाल में अलग-अलग होना चाहिए. कूड़ा अलग नहीं करने और गंदगी फैलाने वालों पर सीआरपीसी की धारा 133 के तहत कार्रवाई की जायेगी. कार्यक्रम में विद्यालय के प्रधानाचार्य देव कुमार मिश्रा ने बच्चों को स्वच्यछता से संबंधित जानकारी दी और जिम्मेवारी से अवगत कराया. इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षकगण उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...