चतरा : पहले घूस लेने के आरोप में जेल गये थे मुखिया, छूटते ही महिला संग रंगरलिया मनाते पकड़ाये

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 05/12/2018 - 19:09

Chatra : मयूरहंड प्रखंड के सोकी पंचायत के मुखिया राजकुमार मेहता पर योजना के नाम पर महिलाओं से यौन शोषण करने का मामला प्रकाश में आया है. पूरे प्रखण्ड क्षेत्र में यह घटना चर्चा का विषय बना हुआ है. ग्रामीणों ने एक महिला के साथ सोकी पंचायत के मुखिया को रंग रलिया मनाते रंगे हाथ पकड़ा, जिसका वीडियो भी वायरल हो गया है. सोकी पंचायत के मुखिया राजकुमार मेहता का विवादों संग चोली-दामन का साथ है. इससे पहले मुखिया को एसीबी की टीम ने घूस लेने के आरोप में जेल की हवा खिलाई थी और अब जेल से छूटते ही मुखिया की एक और घिनौनी करतूत सामने आयी है.

इसे भी पढ़ेंः इंडियन ऑयल डिपो के 30 साल पुराने मजदूर अचानक हटाए गए, आक्रोशित मजदूरों ने परिवार सहित कंपनी का मेन गेट किया जाम

एक अन्य महिला ने भी मुखिया पर लगाये यौन शोषण के प्रयास का आरोप 

घटना सामने आने के बाद एक अन्य गरीब महिला ने नाम सार्वजनिक नहीं करने की शर्त पर बताया कि आवास देने व जल सहिया बनाने का प्रलोभन देकर मुखिया ने हमारा भी यौन शोषण करने प्रयास किया है, पर हमारे विरोध करने के कारण अपने मंसूबे में मुखिया सफल नहीं हो पाया. मुखिया होने के कारण अपनी पहुंच का लाभ उठाकर अभी तक वह बचता रहा है. सोकी पंचायत के मुखिया राजकुमार मेहता महिलाओं पर बुरी नजर रखते हैं और गलत मंसूबो में कामयाब होने के लिए महिलाओं को झूठा लालच देते हैं.

मालूम हो कि मुखिया को पूर्व में ACB की टीम ने रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था और जेल गए थे. जेल से छूटने के बाद फिर से घिनौनी करतूत सामने आई है.

इसे भी पढ़ेंः मुख्य सूचना आयुक्त का आदेश : NTPC जमीन अधिग्रहण से संबंधित दस्तावेज अधिवक्ता सत्य प्रकाश को दिखायें

na