क्या आप भी घर लेकर जाते हैं ऑफिस का टेंशन तो अपनायें ये टिप्स

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/05/2018 - 16:14

Ranchi : क्या आप भी अपने ऑफिस की टेंशन रोज घर ले आते हैं? क्या घर पर आते ही आपको ऑफिस के अगले दिन की चिंका सताती है? तो ऐसा न करें, ऑफिस की टेंशन ऑफिस में ही छोड़ कर आए. हां हम जानते हैं इस बात को कहना बहुत आसान है, लेकिन इसे निभाना मुश्किल है. आज हम आपको कुछ ही टिप्स दे रहे हैं जिसे अपनाकर आप अपने वर्क और लाइफ को परफेक्ट बैलेंस कर पाएंगे.

इसे भी पढ़ें: शराब से भी ज्यादा खतरनाक है फेसबुक व वाट्सएप की लत, कहीं आपके अपने भी तो बीमार नहीं

तय करें एक बाउंड्री

सबसे पहले एक बाउंड्री तय करें. ऑफिस में सहकर्मियों के साथ कॉम्पिटिशन के चलते यह आसान नहीं है कि ऑफिस का काम ऑफिस तक छोड़ दिया जाए, पर घर आकर ऑफिस का काम करना आपका वर्क लाइफ बैलेंस जरूर बिगड़ जाएगा. आपको यह तो तय करना होगा कि घर आकर आप ऑफिस का काम न करें जिससे दफ्तर की टेंशन का असर आपकी जिंदगी पर न पड़े. धर पर दफ्तर के काम की आदत न डाले, लेकिन हां इमरजेंसी के वक्त कभी कभार आप काम कर सकते हैं.

हगबह

इसे भी पढ़ें: अपने दिल में छुपे बच्चे को लायें बाहर, रहें Tension Free

अपने काम का करें आंकलन

दफ्तर से निकलने से पहले अपने काम का आंकलन करें और अगले दिन की योजना बना लें. ऐसा करने से आपको घर जाकर इस बात की टेंशन नहीं सताएगी कि कल जाकर आपको क्या करना है. आपको पहले से मालूम होगा कि अगले दिन आप क्या करने वाले हैं. ऐसा करने से आप घर जाकर तनावमुक्त रहेंगे.

ेो््

 

इसे भी पढ़ें: समर वेकेशन प्लान: औली में लें स्नोफॉल का मजा

करें टाइम मैनेजमेंट

समय का प्रबंधन ठीक ढ़ंग से करें. अगर आप अपने काम को अपनी क्षमता के अनुसार निर्धारित समय के अमदर पूरा कर देंगे तो आपको किसी बात की टेशन नहीं रहेगी. कई बार आप समय पर काम नहीं कर पाते, क्योंकि हमें काम को टालने की आदत होती है तो कई बार हम उस कार्य का दायरा बहुत फैला देते है. ऐसे में समय का थोड़ा सा प्रबंधन भी आपके तनाव को कम करने में बड़ी भूमिका निभाता है.

्ि्ि

सोशल मीडिया से रहे दूर

दफ्तर में काम के दौरान सोशल मीडिया से दूरी बनाकर रखें, क्योंकि इसमें इतना समय निकल जाता है और आपको मालूम भी नहीं चलता और आपका काम भी प्रभावित होता है. ऑफिस के दौरान अपने सोशल मीडिया के नोटिफिकेशन बंद रखें जिससे आपका ध्यान न भटके, क्योंकि अगर हम सोशल मीडिया में लगे रहेंगे तो जाहिर सी बात है आपका काम खत्म नहीं हो पायेगा. 

्िेिे्ि

 

एक्सट्रा काम को कहें ना

ऐसा नहीं हो कि मैनेजर या बॉस अगर एक्सट्रा काम दें तो आप कभी मना न करें. यह आपके करियर के लिए भले ही अच्छा हो सकता है, लेकिन इस से उनकी आदत बिगड़ जाती है और आप एक्सट्रा कामों में ही उलझे रह जाते हैं. इस कारणवश आपकी टेंशन तो बढ़ती ही है साथ ही आपकी पर्सनल लाइफ भी प्रभावित हो सकती है. 

्ेो्ेि

 

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म