दुमका के गुहियाजोड़ी में लगे नारे, जेबी तुबिद झारखंड छोड़ो

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 02/04/2018 - 17:54

Ranchi: दुमका प्रखंड के जुहियाजोड़ी गांव में रविवार को आदिवासी संगठन ने सरकार का विरोध किया. संगठन ने स्थानीय नीति को लेकर भाजपा प्रवक्ता जेबी तुबिद के उस बयान की आलोचना की, जिसमें श्री तुबिद ने कहा था कि अब 1932 खतियान की कोई कानूनी मान्यता नहीं रह गयी है.  ग्रामीणों ने जेबी तुबिद झारखंड छोड़ो के नारे लगाए और उनका पुतला दहन किया. 

जेबी तुबिद का पुतला जलाया

गुहियाजोड़ी गांव में सिदो-कान्हू चांद-भैरव, फूलो-झानो आखड़ा के बैनर तले ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया. प्रदेश भाजपा प्रवक्ता जेबी तुबिद का पुतला दहन किया गया और नारा लगाया गया भाजपा प्रवक्ता जेबी तुबिद  हाय-हाय, जेबी तुबिद झारखण्ड छोड़ो. 1932 खतियान आधारित स्थानीय निति लागू करो, लागू करो के नारे भी लगाये गये. 

नेताअों का सामाजिक बहिष्कार करने का एेलान

आखड़ा ने कहा अगर भाजपा सरकार वर्तमान स्थानीय निति को संशोधन कर 1932 खतियान आधारित स्थानीय  निति लागु नहीं करती है, तो  जोरदार आन्दोलन किया जायेगा. उन तमाम पार्टी और नेताओ का सामाजिक बहिष्कार किया जायेगा जो 1932 खतियान आधारित स्थानीय नीति का  समर्थन नही करेंगे. इस मौके में लुखी मुर्मू, मर्शिला मुर्मू, अनुपम मरांडी, साहेब मरांडी, लूकस हांसदा, मंगल बेसरा, संगीता मुर्मू, राधा रानी मुर्मू, मलोती किस्कू, सारो सोरेन, चुड्की टुडू, सोनाली टुडू, शांति मरांडी, मदन हांसदा, शिवधन मरांडी, प्रमोधन मरांडी, बनार्ड मरांडी, प्रकाश हेम्ब्रोम, संजय मरांडी, हिरामुनी हेम्ब्रोम, सरोदी मरांडी, बबलू मरांडी, परमिला मुर्मू, बबलू मुर्मू, रोहित मरांडी, सुमित मरांडी, सीमा टुडू, सुमित मरांडी, पकु मरांडी के साथ काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थति थे.