गढ़वा: माओवादियों का उत्पात, सड़क निर्माण में लगे चार गाड़ियों को फूंका, मुंशी और मजदूरों की पिटाई

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/30/2018 - 17:11

Garhwa: नक्सलियों ने गढ़वा में अपनी मौजूदगी का एहसास कराते हुए सड़क निर्माण में लगे चार गाड़ियों को फूंक लगा डाला. भाकपा माओवादियों ने स्कूल भवन परिसर और पास के मैदान में सूखने के लिए रखे गए बीड़ी पत्तों में भी आग लगा दी. इतना ही नहीं, माओवादियों ने इस दौरान सड़क निर्माण कार्य में लगी कंपनी के मुंशी और बीड़ी पत्ता के कारोबार से जुड़े लोगों की पिटायी भी की. एक ओर माओवादियों की इस धमक के बाद इलाके में दहशत है. वही घटना के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है. घटनास्थल पलामू जिला मुख्यालय से 50 किमी जबकि गढ़वा मुख्यालय से 60 किलोमीटर दूर सघन नक्सल प्रभावित इलाका है.

इसे भी पढ़ेंः चार दिनों से जलापूर्ति ठप होने पर रांचीवासियों का फूटा गुस्साः एकरा मस्जिद के पास लगाया जाम, डिप्टी मेयर के लिखित आश्वासन पर शांत हुए लोग

कहां हुई घटना

मंगलवार रात जिले के रमकंडा थाना क्षेत्र के बिराजपुर व भंडरिया थाना क्षेत्र के रोड़ो गांव में 50 की संख्या में आये माओवादियों ने रमकंडा-भंडरिया सड़क निर्माण कार्य में लगे दो हाइवा, पानी टैंकर ट्रक व एक लोडर नामक वाहन को उन्ही वाहनों से डीजल निकालकर फूंक दिया. इसके साथ ही वाहन चालकों सहित सात लोगों की पिटाई की. और उनके मोबाइल फोन को लूट लिया. इस घटना में चारों वाहन पूरी तरह से जलकर बर्बाद हो गये.

बीड़ी पत्ता में लगायी आग 

ुिपु

माओवादियो ने रमकंडा-भंडरिया वन क्षेत्र के एक प्लॉट में खोले गये चार बीड़ी पत्ता केंद्रों में पहुंचकर चार मुंशी, एक चेकर को बंधक बनाकर उनकी भी पिटाई की. इसके साथ ही इन चारों केंद्रों पर रखे गये करीब 200 बोरी बीड़ी पत्ता को आग के हवाले कर दिया. साथ ही पास में सुख रहे पत्तों में भी आग लगा दी. लेकिन कच्चा पता होने की वजह से नहीं जल सके.

इसे भी पढ़ेंः गोमिया उपचुनाव: मतगणना की तैयारी पूरी, कल होगा प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

एसपी ने लिया घटनास्थल का जायजा

पकरकघटना की सूचना मिलते ही रात में ही थाना प्रभारी प्रकाश कुमार रजक दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली. वहीं बुधवार की सुबह गढ़वा एसपी शिवानी तिवारी, एसएसपी सदन कुमार, रंका थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार, रमकंडा थाना प्रभारी ने घटनास्थल पर पहुंचकर वाहन चालकों से पूछताछ की.

माओवादी मृत्युंजय के दस्ते का हाथ

घटना को माओवादी जोनल कमांडर मृत्युंजय के दस्ते ने अंजाम दिया है. दस्ते में 40-50 नक्सली शामिल थे. घटनास्थल पर 30 से 40 नक्सली थे, जबकि गांव की घेराबंदी में 10 से 15 नक्सली लगे थे. मुंशी ने बताया कि रमकंडा-भंडरिया सड़क निर्माण का कार्य डालटनगंज के संवेदक दिलीप पांडेय करा रहे हैं. पथ निर्माण विभाग से करीब 30 करोड़ की लागत से सड़क का निर्माण कराया जा रहा है. वहीं बीड़ी पत्ता के संवेदक गढ़वा जिला मुख्यालय के सुरेश नामक व्यक्ति हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म