सरकार मजदूरों की आवाज दबाने के लिए असंवैधानिक कदम उठा रही है : स्टेन स्वामी

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/13/2018 - 19:55

Ranchi : मजदूर संगठन समिति पर लगे बैन के खिलाफ ट्रेड यूनियन नेता और बुद्धिजीवियों ने विरोध जताया है. मंगलवार को एक्सआईएसएस कॉलेज में आयोजित प्रेस वार्ता में लोकतंत्र बचाओ मंच झारखंड के बैनर तले स्टेन स्वामी ने सरकार की कड़ी निंदा की. उन्होंने कहा कि सरकार मजदूरों की आवाज दबाने के लिए असंवैधानिक कदम उठा रही है. उन्होंने 22 दिसंबर 2017 को झारखंड सरकार के द्वारा मजदूर संगठन समिति पर लगाए बैन को अलोतांत्रिक और गैर कानूनी बताया. स्वामी ने कहा कि किसी भी ट्रेड यूनियन को बैन करने से पहले उसकी कानूनी प्रक्रिया होती है, जिसका सरकार के गृह विभाग ने उल्लंघन किया है. उन्होंने कहा कि राज्य में मजदूरों के लिए सरकार की दमनकारी नीतियों से लड़ाई लड़ने के लिए ही 31 जनवरी 2018 को लोकतंत्र बचाओ मंच झारखंड का गठन किया गया है. वहीं बशिष्ठ तिवारी ने कहा कि 18 फरवरी को रांची में बैन और मजदूरों को लेकर सरकार की नीतियों के खिलाफ सेमिनार का आयोजन होगा, जहां राज्य भर से सैकड़ों मजदूर संगठन के लोग शामिल होंगे.

इसे भी पढ़ें - दस दिनों में एक लाख शौचालय बनाने का सरकारी दावा झूठा, जानिए शौचालय बनाने का सच ग्रामीणों की जुबानी

इसे भी पढ़ें - गिरिडीह : ओडीएफ की हकीकत, खुले में शौच मुक्त घोषित सिकदारडीह पंचायत का सच (देखें वीडियो)

न्यायलय में होगी जीत

वहीं बैन के खिलाफ संगठन ने कोर्ट में रीट दायर की है. इस बावत संगठन के वकील शिव प्रसाद ने कहा कि जो आरोप सरकार ने लगाकर संगठन पर बैन लगाया है, वह निराधार है. उन्होंने कहा कि संगठन को बैन करने से पहले कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया. कोर्ट में संगठन की जीत तय है. फैसले को हमलोगों ने कोर्ट में चुनौती दी है.

इसे भी पढ़ेंः रघुवर सरकार ने माओवादी व टीपीसी को धन मुहैया कराने वाले रघुराम रेड्डी के खिलाफ नहीं की कार्रवाई

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)