जमुआ : पांच पंचायत ओडीएफ घोषित, मनाया गया ओडीएफ उत्सव

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 05/05/2018 - 20:53

Giridih : जमुआ के शाली, चुंगलो, धुरगड़गी, गोरो सहित पांच पंचायतों में स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओडीएफ उत्सव मनाया गया. इस मौके पर जगह-जगह रैलियां निकाली गई. इन पंचायतों में जनसभाओं का भी आयोजन किया गया. चुंगलो में ओडीएफ उत्सव में बतौर मुख्य अतिथि जमुआ के विधायक केदार हजरा ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना की पहली सीढ़ी स्वच्छता है. खुले में शौच जाना हर दृष्टिकोण से नुकसानदेह है. उन्होंने कहा कि हमारे देश की बड़ी आबादी गांवों में रहती है. पीएम गांवों की सूरत बदलना चाहते हैं. इसीलिए जनधन योजना स्वच्छ भारत मिशन, उज्ज्वला योजना, मुद्रा योजना, ग्राम सड़क योजना, सिंचाई योजना, आवास योजना सहित 72 तरह की कल्याणकारी योजनाएं गांवों में खुशहाली लाने के लिए चल रही हैं. वहीं, चुंगलो में ओडीएफ सिलिब्रेशन में बतौर विशिष्ट अतिथि डीडीसी मुकुंद दास ने सबसे आह्वान किया कि सभी लोग शौचालय का उपयोग करें. उन्होंने कहा कि ओडीएफ का उत्सव मना लेने भर से फ़र्ज़ अदा नहीं हो जाएगा, बल्कि सब मिलकर पंचायत को शत प्रतिशत ओडीएफ बनावें. 

इसे भी पढ़ें-  बिना लाइसेंस तम्‍बाकू उत्पादों की बिक्री पर कसेगा शिकंजा, रांची नगर निगम ने तैयार किया खास दस्‍ता

लोगों से शौचालय का प्रयोग करने की अपील

इधर धुरगड़गी में भी ओडीएफ का जश्न मनाया गया. वहां मुख्य अतिथि प्रमुख सुलोचना देवी एवम विशष्टि अतिथि डीआरडीए के निर्देशक पवन कुमार थे. सभा की अध्यक्षता मुखिया दिनेश मण्डल ने की, जबकि संचालन पूर्व पंसस उमाशंकर चरण पहाड़ी ने किया. शाली में इस उत्सव को ढोल बाजे के साथ रैली निकालकर मनाया गया. विधिवत मंगलाचरण कर ओडीएफ उत्सव का आगाज़ किया गया. अध्यक्षता मुखिया कमरुद्दीन अंसारी ने की. कार्यक्रम में बीपीआरओ मनोज झा, प्रखंड 20 सूत्री उपाध्यक्ष कैलाश साहू, पंसस अशोक शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता भरत मोदी, पीएसबी सचिन सौरभ, पंचायत सचिव भुनेश्वर साव सहित कई वार्ड सदस्य भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष ने कुरमी को एसटी में शामिल करने के लिए सीएम को लिखी चिट्ठी 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.