खूंटी : अपहृत छात्र पियूष का 2 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं, शुक्रवार को हुआ था अपहरण

Submitted by NEWSWING on Sun, 12/24/2017 - 18:21

Khunti : राजधानी रांची के पड़ोसी जिला खूंटी में शुक्रवार शाम खूंटी थाना क्षेत्र के साहू तालाब के पास से  एक छात्र का अपहरण कर लिया गया. अपहृत युवक पियूष कुमार ब्रिजफोर्ड स्कूल का छात्र है जिसका अज्ञात अपराधियों ने अपहरण कर लिया. अपहरण की सूचना परिजनों ने खूंटी पुलिस को दी है, लेकिन मामले पर खूंटी पुलिस चुप्पी साधे हुए है.

इसे भी पढ़ें- राजधानी के अस्पतालों में नहीं चलता निगम का नियम, NewsWing की पड़ताल में खुली टॉप हॉस्पिटल्स की पोल, बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट के प्रोयग के विषय में बताने से किया इंकार

इसे भी पढ़ें- नामकुम अंचल कार्यालय में शौचालय रहते ही बना दिया नया Toilet, 54 लाख हुए खर्च, अक्सर रहता है लॉक

मुर्गा खरीदने का निकला था पियूष

पियूष के परिजनों ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार को वह रांची-खूंटी मुख्य मार्ग स्तिथ अपने घर से मुर्गा खरीदने साहू तालाब के पास गया था. मुर्गा खरीद कर लौटने के दौरान अपहरणकर्ताओं ने छात्र का अपहरण कर लिया. अपहरणकर्ताओं ने अभी तक फिरौती के लिए फोन नहीं किया है. बता दें कि छात्र पियूष कुमार के पिता पेशे से पत्थर व्यवसायी है.

इसे भी पढ़ें- नटराजन के बरी होने के बाद सुषमा बड़ाईक ने खोया आपा, पत्रकारों को कहे अपशब्द (देखें वीडियो)

इसे भी पढ़ें- लालू से मिलने होटवार जेल पहुंचे राजद के नेता-कार्यकर्ता, मिलने की नहीं मिली अनुमति, कर रहे नारेबाजी और हंगामा

चार की संख्या में थे अपहरणकर्ता

व्यवसायी ज्योतिष कश्यप की मानें तो अपहरणकर्ता चार से अधिक की संख्या में आये थे. उन्होंने पियूष कार में जबरन बिठा कर ले गये. जिस स्थान से पियूष का अपहरण किया गया, बगल में खेल रहे बच्चों ने परिजनों को इसकी जानकारी दी. उसके बाद परिजन शुक्रवार शाम से लगातार पियूष को ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं. लेकिन अभी तक पियूष का कोई पता नहीं चल पाया है. पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं.

इसे भी पढ़ें- कोर्ट परिसर में फैली अफवाह, बरी हो गये लालू

इसे भी पढ़ें- चारा घोटाला में लालू प्रसाद दोषी करार, सजा पर फैसला 3 जनवरी को, जगन्नाथ मिश्रा बरी

परिजनों को रिश्तोंदारों पर है शक

अपहृत छात्र पियूष के परिजनों का कहना है कि उनके बेटे के अपहरण के पीछे रिश्तेदारों का ही हाथ है. पुलिस ने शक के आधार पर व्यवसायी की पत्नी के बहनोई के भाईयों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया. पर पुलिस के कोई जानकारी नहीं लगी.

इसे भी पढ़ें- स्मार्ट सिटी की स्मार्ट सड़क : रोड के बीचों बीच गड़े हैं बिजली के पोल, दो साल के बाद भी पुंदाग-नया सराय सड़क का निर्माण नहीं हो पाया पूरा

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...