उग्रवादियों का दुस्साहस : पानी संग्रह समिति के सचिव की पीट-पीटकर की हत्‍या

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 05/21/2018 - 18:17

जेसीबी मशीन को लेकर हुआ था विवाद

Gumla : गुमला थाना क्षेत्र के ग्राम वृंदा में पीएलएफआई के उग्रवादियों ने एक दुस्साहसिक घटना को अंजाम देते हुए पानी संग्रह समिति के सचिव को लाठी डंडे से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया. घटना की सूचना मिलने पर गुमला थाने की पुलिस ने घटनास्थल से शव बरामद कर गुमला सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मृतक का नाम शनिचरवा उरांव (60 वर्ष) बताया जा रहा है, जिसकी हत्या से उसके दो बेटे और एक बेटी के सिर से पिता का साया उठ गया.

इसे भी पढ़ें- पलामू: दिवंगत पत्रकार रामेश्वर केसरी को न्याय दिलाने के लिए झारखंड पत्रकार संगठन ने दिया धरना, कई राजनीतिक दलों का भी मिला नैतिक समर्थन     

घर से बुलाकर ले गए और कर दी हत्या

सूचना के मुताबिक पीएलएफआई के सदस्यों ने शनिचरवा उरांव को किसी बहाने से पहले घर से बाहर बुलाया और थोड़ी दूर पर ले जाकर काफी बेरहमी से उसकी लाठी-डंडे से पिटाई कर दी. शरीर के कई हिस्सों में गंभीर चोटें आने के कारण शनिचरवा ने दम तोड़ दिया. बताया जा रहा है कि भूमि संरक्षण विभाग से मेढ़बंदी कार्य करने के लिए जल संग्रह समिति वृंदा गांव में गठित की गई है, जिसमें मृतक सचिव पद पर नामित था. इस हत्याकांड से गुमला में उग्रवाद के खिलाफ चल रहे पुलिस के अभियानों पर भी सवाल उठ रहे हैं. अगर पुलिस उग्रवादियों से सख्ती से निपट रही है, तो ऐसे में उग्रवादियों का दुस्साहस इस हद तक कैसे बढ़ गया ?

इसे भी पढ़ें- दिल्ली में झारखंड की बेटी की हत्या, मेहनत की कमाई मांगी तो किए 10 टुकड़ें     

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म