नक्सलियों की करतूत का दंश झेल रहे लातेहार के नेवारी पंचायत के ग्रामीण

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/16/2018 - 19:43

Latehar : जिले के सदर प्रखंड के नेवारी ग्राम पंचायत के नव निर्मित पंचायत भवन को भाकपा माओवादी के नक्सालियों ने विस्फोट कर उड़ा दिया था. नक्सलियों ने इस घटना को अपने 18 फरवरी 2016 को विरोध प्रतिरोध सप्ताह के दौरान पुलिस एवं सुरक्षा बल का ठहराव होने के आरोप में अंजाम दिया था, जिसका दंश आज दो वर्ष बाद भी नेवारी पंचायत के ग्रामीणों को झेलना पड़ रहा है. पंचायत भवन का निर्माण वर्ष 2015 में हुआ था. जिले का यह पहला मॉडल पंचायत भवन था.

कई परेशानियों से गुजर रहे ग्रामीण

गांव के मोहमद आरिफ, शिव कुमार सिंह एवं अवध नारायण सिंह ने बताया कि जब पंचायत भवन बना तब ग्रामीणों में खुशी की लहर थी, कि अब विकास योजनाओं का पूरा लाभ मिलेगा. ग्रामीणों की बैठक होगी. सरकार की जो मुहिम या योजना होगी, इसकी जानकारी पंचयत भवन से मिलेगी लेकिन उम्मीद टूट गई. नक्सलियों ने इस पंचायत भवन को लोक सभा चुनाव के दौरान उडाया था. माओवादी का कहना था कि चुनाव के दौरान सुरक्षा बल पंचायत भवनों में ठहराव करते हैं. इसका खामियाजा ग्रामीण भुगत रहे हैं. जब पंचायत भवन ही नहीं है तो ग्रामीण अब कहां बैठक करेंगे. भवन के अभाव में ग्रामीण एक जगह एक जुट नहीं पा रहे है.

इसे भी पढ़ें-  मोदी सरकार के तीन साल पर किया गया नितिन गडकरी का दावा फेल, चौथी वर्षगांठ में भी रांची-टाटा हाईवे अधूरा

इसे भी पढ़ें-  लातेहार : डीसी ने की विकास योजनाओं की समीक्षा, कहा- मुखिया विकास कार्य में दिलचस्पी दिखाएं, नहीं तो होगी विभागीय कार्रवाई

पंचायत भवन जनता की सम्पत्ति, सुरक्षित रखना जनता का काम : उप विकास आयुक्त

जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के उप विकाश आयुक्त अनिल कुमार सिंह ने बताया कि सरकार को बहुत पहले पत्र लिख कर जानकारी दी गई है. समस्या यह है कि नया पंचायत भवन बना था जिसे नक्सलियो ने उड़ा दिया था. सरकार से राशि उपलब्ध होते ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाको में बने पंचायत भवन हो या अन्य सरकारी भवन हो वो जनता की सम्पत्ति होती है, ग्रामीणों को इसे सुरक्षा देनी चाहिए. सरकार या जिला प्रशासन अपने बूते पर सारा काम नहीं कर सकती है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na