विकास के बजाय वोट की राजनीति करता है विपक्ष : मुख्यमंत्री

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 04/15/2018 - 10:39

Chatra : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि हम गांव-गांव में विकास की गंगा बहाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि गांव के लोग जागरुक हों और गांव के लोगों को जागरुक करने के लिये राज्य का मुख्य सेवक आपके गांव तक पहुंचा है. मुख्यमंत्री ने विपक्षी पार्टियों पर आड़े हाथों लेते हुये कहा कि पिछले 67 वर्षों की सरकारों ने गांव के लोगों को ठगने का काम किया है और महज वोट के लिये आपका इस्तेमाल किया है. उन्होंने कहा कि हमारा मकसद है गरीब, दलित एवं शोषित के जीवन में बदलाव लाना. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने रविवार को झारखण्ड में ग्राम स्वराज अभियान कार्यक्रम की शुरुआत चतरा जिले से की. ग्राम स्वराज अभियान कार्यक्रम के तहत झारखण्ड के 21 जिलों के अनुसूचित जाति बहुल्य 252 गांवो को चिन्हित किया गया है, जिसमें चतरा जिले के 38 अनुसूचित जाति बहुल्य गांव शामिल है. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम स्वराज योजना के तहत चिन्हित अनुसूचित जाति बहुल्य गांवो की वर्तमान स्थिति का आकलन कर 14 अप्रैल से 5 मई तक विकास योजनाओं को धरातल पर उतारना झारखण्ड सरकार की पहली प्राथमिकता है.

इसे भी पढ़ें - सुदेश सिर्फ सिल्ली तक सिमटे, ज्यादातर नगर निकाय चुनाव के प्रत्याशी हैं नाराज, पार्टी की मदद के बिना लड़ रहे हैं चुनाव

252 विशेष गांवों में 5 मई तक बिजली एवं अन्य मुलभूत सुविधायें उपलब्ध करा दी जायेगी

मुख्यमंत्री रघुवर दास अलग अंदाज में दिखे. सदर प्रखंड के शेषांग गांव के लोगों से सीधे रुबरु हुये और महिलाओं को अपने बच्चों को शिक्षित करने का संदेश भी दिया. गांव की योजनाएं गांव में ही बने इसके लिये नियम बनाये गये हैं. मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य के 252 विशेष गांवों में आगामी पांच मई तक बिजली एवं अन्य मुलभूत सुविधायें उपलब्ध करा दी जायेगी. सदर प्रखंड के शेषांग गांव में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने ये बातें कही. अनुसूचित जाति बहुल्य गांवों में विकास की योजनाओं से लोगों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से रविवार को सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास हवाई मार्ग से चतरा पहुंचे. चतरा सदर प्रखण्ड के शेषांग गांव से मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ग्राम स्वराज अभियान योजना का शुरुआत की. चतरा जिले के 38 अनुसूचित जाती बहुल्य गांव मे विकास योजनाओं से लोगों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से ग्राम स्वराज अभियान से जोड़ा गया. ग्राम स्वराज अभियान के तहत चतरा पहुंचे मुख्यमंत्री ने सबसे पहले डीआरडीए प्रशिक्षण भवन में सामाजिक न्याय दिवस पर लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि चतरा के लोग और प्रशासन धन्यवाद के पात्र हैं, क्योंकि उन्होंने चतरा जिले को अपराध और उग्रवाद मुक्त बनाने मे सरकार का भरपूर सहयोग किया.

cm2

इसे भी पढ़ें - 23 अप्रैल से मुख्यमंत्री आवास का अनिश्चितकालीन घेराव करेंगे पारा शिक्षक, 1 मई को भूख हड़ताल 

देश भर के 21058 व झारखण्ड के 252 गांवों में चलेगा ग्राम स्वराज अभियान

मुख्यमंत्री ने केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का बखान करते हुये बताया कि देश भर के 21058 गांवों में ग्राम स्वराज अभियान चलेगा जिसमें झारखण्ड के 252 शामिल हैं. जिनमें मुख्य रूप से पलामू के 70, चतरा के 38, गढ़वा के 32, धनबाद के 18, लातेहार के 17, हजारीबाग के 14, बोकारो के 13, देवघर के 13, गिरिडीह के 12 गांव सम्मिलित हैं. अनुसूचित जाति बाहुल्य 252 गांवों में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य (प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना), उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना तथा मिशन इंद्रधनुष योजना से शतप्रतिशत लाभुकों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने का निर्देश सभी जिले के उपायुक्तों को दिया गया है. इस मौके पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने उज्जवला योजना के लाभुकों के बीच मुफ्त में गैस कनेक्शन का वितरण भी किया. कार्यक्रम में चतरा के विधायक जय प्रकाश सिंह भोक्ता, लातेहार जिला परिषद उपाध्यक्ष राजेन्द्र साहू एवं जिले के आला अधिकारी भी मौजूद थे.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.  

Main Top Slide
City List of Jharkhand
loading...
Loading...