पलामू : दिलीप सिंह नामधारी सैकड़ों समर्थकों के साथ JVM में शामिल, भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए जनादेश की मांग

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 02/04/2018 - 17:58

Daltonganj : राज्य में विधानसभा चुनाव होने में अभी काफी समय बाकी है, लेकिन जोड़-तोड़ की राजनीति अभी से शुरू हो गयी है. झारखंड के राजनीतिक राजधानी के रूप में विख्यात पलामू में रविवार को इसकी एक झलक देखने को मिली. झारखंड विकास मोर्चा के मिलन समारोह में राज्य के प्रथम विधानसभा अध्यक्ष और कद्दावर नेता इंदर सिंह नामधारी के पुत्र युवा नेता दिलीप सिंह नामधारी ने झाविमो की सदस्यता ग्रहण की.

इसे भी पढ़ें- जो शहीद हो गए, उनके आश्रित को नौकरी कब मिलेगी यह पता नहीं, पर नक्सली को सरेंडर के समय ही नौकरी देने का प्रस्ताव

इस सरकार को उखाड़े फेंकने की कूबत झाविमो रखता है : बाबूलाल

सैकड़ों कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में झाविमो के केन्द्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने दिलीप सिंह नामधारी को अपनी पार्टी में शामिल किया. मौके पर मरांडी ने कहा कि राज्य में जिस तरह की अराजक स्थिति बनी हुई है, उससे निपटने के लिए सभी को समन्वय बनाना होगा. आज जात-पात के नाम पर जिस तरह नफरत की खाई पैदा की जा रही है, उसके लिए झाविमो को जनादेश दें. इस सरकार को उखाड़े फेंकने की कूबत झाविमो रखता है.

पूरे राज्य में भय का माहौल

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे राज्य में भय का माहौल है. सरकार के इशारे पर पुलिस सरकारी गुंडा बनकर पूरे प्रदेश में भय बनाकर रखी हुई है. राज्य के बड़े अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे हैं, लेकिन सरकार उन्हें दंडित करने के बजाए संरक्षण देने में लगी हुई है. राज्य में किसी मुद्दे पर आवाज उठाना गुनाह हो गया है. भय, भूख और भ्रष्टाचार की स्थिति पूरे राज्य में हावी है.

भाजपा राज्य का विनाश चाहती है : प्रदीप

झाविमो के केन्द्रीय महासचिव प्रदीप यादव ने रघुवर सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा राज्य का विनाश करने पर तुली हुई है. जनता को किस तरह मूर्ख बनाया जाए, यह भाजपा सरकार भलीभांति जानती है. नौकरी के नाम पर नौजवानों को छला जा रहा है. लूट की परिभाषा गिनाते हुए उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में स्तर पर लूट मची हुई है और उन्हें पकड़ने वाला कोई नहीं है. अंचल और प्रखंड स्तर पर छोटे-मोटे मामले में कार्रवाई हो रही है, लेकिन बड़े लूट के हिस्सेदार बनने वालों को संरक्षण दिया जा रहा है. इस समाप्त करने के लिए प्रदेश में झाविमो को समर्थन देना होगा. लोगों से वादा करता हूं, अगर प्रदेश में झाविमो को प्रतिनिधित्व का मौका मिला तो लूट के हिस्सेदारों को उनका स्थान बता दिया जायेगा.

विश्वासघात कभी नहीं करूंगा : दिलीप

झाविमो में शामिल हुए दिलीप सिंह नामधारी ने कहा कि वर्ष 2014 के चुनाव में झाविमो को बड़ा झटका लगा था, जब इस पार्टी के कई विधायक बागी होकर भाजपा में शामिल हो गए थे. डाल्टनगंज के एक युवा प्रतिनिधि भी इसमें शामिल थे, लेकिन वे ऐसा नहीं करें. उनके विश्वास को कभी खत्म नहीं होने देंगे. राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए दिलीप नामधारी ने कहा कि प्रदेश की रघुवर सरकार हर मोर्चे पर फेल है. 

इसे भी पढ़ें- भ्रष्टाचार का आरोप लगा कर सदन को घेरने वाला जेएमएम का एक विधायक निकला कोयला चोर, दूसरे पर हत्या का आरोप

मिलन समारोह के गवाह बने हजारों लोग

मिलन समारोह में भाग लेने के लिए डाल्टनगंज विधानसभा क्षेत्र के कोने-कोने से लोग पहुंचे थे. मांदर, झाल और ढोलक बजाते हुए नाचते गाते लोगों ने इस कार्यक्रम में अपनी भागीदारी निभायी. इसमें डाल्टनगंज शहरी और ग्रामीण के अलावा गढ़वा जिले के बड़गड़, भंडरिया, चैनपुर, रामगढ़ और सतबरवा के ग्रामीण शामिल थे. इनमें महिलाओं की संख्या अच्छी खासी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)