पलामू : पत्रकार की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस, मेडिकल बोर्ड ने किया शव का पोस्टमार्टम

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 05/17/2018 - 17:42

Daltonganj : विश्रामपुर के पत्रकार रामेश्वर केसरी की मौत की गुत्थी सुलझाने में पलामू पुलिस पूरी संजीदगी के साथ लगी हुई है. गुरुवार को स्थानीय सदर अस्पताल में दंडाधिकारी सुधीर कुमार (एनडीसी) की उपस्थिति में तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड ने शव का पोस्टमार्टम किया. मेडिकल बोर्ड में डॉ वीके सिंह, डॉ एसके पाठक और डॉ राजेश कुमार शामिल थे.

पोस्टमार्टम के वक्त जिले के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत महथा, डीएसपी सुरजीत कुमार, शहर थाना प्रभारी तरुण कुमार समेत कई पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे. पुलिस अधीक्षक श्री महथा ने कहा कि पूरे मामले की जांच गहनता के साथ की जा रही है और जल्द ही इसका उद्भेदन कर लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें- पलामू : सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पत्रकार की संदिग्ध मौत, फंदे पर झूलती लाश मिली, पुलिस जांच में जुटी 

घटना स्थल से मिले कई सामान

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना स्थल से कई सामान मिले हैं. जिसे जब्त कर लिया गया है. जब्त सामानों में एक फैंसी रूमाल भी है, जो रामेश्वर केसरी के पैकेट से मिला है. इस पर ‘एम’ लिखा हुआ है. यह किसी के द्वारा गिफ्ट दिया हुआ रूमाल प्रतीत होता है. इसके अलावा घटना स्थल से लेडिज रिंग, चूड़ी के टुकड़े और ब्लाउज के टुकड़े, कान की बाली में लगने वाले मोती का टुकड़ा और सेब (फल) भी मिले हैं. श्री महथा ने बताया कि जिस टेबल पर घुटने के बल शव खड़ा था, उसी टेबल पर रामेश्वर केसरी का एक मोबाइल फोन बरामद किया गया है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि रामेश्वर केसरी का एक अन्य मोबाइल नहीं मिला है. उन्होंने कहा कि रामेश्वर केसरी के पास चार नम्बर थे और चारों का कॉल डिटेल खंगाला जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- लोहरदगा में नक्सली साजिश नाकाम, छह IED बम बरामद

एफएसएल की टीम ने की जांच

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना स्थल पर जाकर एफएसएल की टीम ने भी जांच की है. फिंगर प्रिंट लिये गये हैं. मृतक की अंगुली पर एक बाल मिला है, जिसे डीएनए टेस्ट के लिए भेजा जायेगा. इसके अलावा मृतक के नाखुन और कपड़े भी जांच के लिए भेजे जायेंगे. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि बारीकी के साथ सभी बिन्दुओं पर जांच चल रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति और भी स्पष्ट होगी.

इसे भी पढ़ें- अत्याधुनिक मशीनों के आने से चिकित्सकों और मरीजों को हुआ फायदा : डॉ अजीत सिंह मुंडा

कौन-कौन थे मौजूद

पोस्टमार्टम के वक्त अस्पताल परिसर में अन्य लोगों के अलावा झारखंड पत्रकार संगठन के केन्द्रीय अध्यक्ष अवधेश शुक्ला, वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र सिंह रूबी, एम.एफ. अहमद, कुंदन वर्मा, जसप्रीत सिंह, ओमप्रकाश अमरेन्द्र, संजीव नयन, दिलीप कुमार, कुंदन सिन्हा, अमर विश्वकर्मा, नीलकमल शुक्ला, अरविन्द तिवारी, शैलेन्द्र तिवारी, उपेन्द्र कुमार, तौहिद रब्बानी, संजय पांडेय, संजय सिंह उमेश, अभिषेक जौरिहार, श्रवण सोनी, अश्विनी धई, रामाकांत प्रसाद, चन्द्रदेव प्रजापति, राकेश तिवारी, सुभाष सिंह, बेनी माधव सिंह, नागेन्द्र शर्मा, रघुवीर पांडेय, विजय तिवारी, सीएस दुबे, युवा पलामू के राकेश तिवारी, झारखंड नवनिर्माण मोर्चा के राहुल दुबे, पूर्व सैनिक बृजेश शुक्ला, सीपीआई के रूचिर तिवारी भी मौजूद थे.

गौरतलब है कि बुधवार को विश्रामपुर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के सहिया प्रशिक्षण सभागर में रामेश्वर केसरी का शव पंखे से लटकता पाया गया था. वे स्वास्थ्य केन्द्र में बीटीटी के पद पर भी कार्यरत थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na