बोकारो में रफ्तार का कहरः पांच दिनों में छह युवकों की सड़क हादसे में मौत

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 12/27/2017 - 17:03

Bokaro : बोकारो जिले में रफ्तार के कहर से पांच दिनों में छह युवकों की मौत हो गयी. सड़कों पर तेजी ओर लापरवाही से भारी ओवर लोड वाहनों के चलने से लगातार सड़क हादसे में लोगों की जान जा रही है. हादसों के बाद जिला प्रशासन के अधिकारी मृतकों के परिजनों को मुआवजा देकर अपना काम खत्म कर लेते है. लेकिन हादसों पर इलाको में कैसे रोक लगे इस दिशा में पहल नही किया जाता है.

इसे भी पढ़ेंः विवादों में घिरे रहने वाले कृषि मंत्री रणधीर सिंह ने मुखिया के साथ की गाली-गलौज, धमकाया, जातिसूचक गालियां दी, प्राथमिकी दर्ज 

चंदनकियारी में हुइ सबसे अधिक हादसे

सबसे अधिक हादसे चंदनकियारी थाना इलाके में हुई है. शुक्रवार को चंदनकियारी के बरमसिया ओपी के मोड़ पर हाइवा की चपेट में आकर साइकिल सवार भोला सरदार(18) की मौत हो गई. इस घटना के बाद हादसे का सिलसिला शुरू हो गया. शनिवार को चंदनकियारी थाना के बरकमा में दो बाइक की टक्कर हो गई, जिसमे चंद्रा के मझलाडीह गांव निवासी नारायण हेम्ब्रम की मौत हो गई.

फिर रविवार की रात में चास- चंदनकियारी मुख्य पथ पर रविवार की देर रात में हुये हादसे में बाइक सवार सहदेव महतो की मौत हो गई. इसी हादसे में घायल पलटन बाउरी की मौत इलाज के क्रम में हो गई.

रविवार को जरीडीह थाना क्षेत्र में रात को जैनामोड़-फुसरो सड़क पर खूंटरी पानी टंकी के पास मोटरसाइकिल सवार पप्पू राम की मौत ट्रक की चपेट में आकर हो गई. जो माराफारी के कैम्प दो का निवासी था.

सोमवार की सुबह पिंड्राजोरा थाना क्षेत्र के बेड़ानी मोड़ पर पल्सर सवार संतोष तिवारी की ट्रक की चपेट में आकर मौत हो गई.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...