कॉमनवेल्थ समिट में राजद विधायकों ने किया हंगामा, सुमित्रा महाजन ने कहा, ये बिहार विस नहीं है...

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/17/2018 - 16:37

Patna : पटना के ज्ञान भवन में शनिवार से छठा भारत प्रक्षेत्र राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन शुरू हो गया है. दीप प्रज्ज्वलित कर दो दिवसीय सम्मेलन की विधिवत शुरुआत की गयी. सम्मेलन की अध्यक्षता लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन कर रही हैं. सम्मेलन में 52 देशों के रिप्रेजेंटेटिव भाग ले रहे हैं. सम्मेलन की शुरुआत करते हुए जैसे ही मंच से बिहार के उपमुख्यमंत्री सह वित्तमंत्री सुशील मोदी ने भाषण देना शुरू किया. कार्यक्रम में उपस्थित राजद के विधायकों ने जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया. सम्मेलन को संबोधित करते हुये सुशील मोदी ने कहा कि भारत में करप्शन के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है. केंद्र की बीजेपी और राज्य सरकार इस मामले में मिलकर काम कर रही है. इसका नतीजा है कि भ्रष्टाचार के मामले में 4 पूर्व मुख्यमंत्री जेल में बंद हैं. सुशील मोदी के इतना बोलते ही राजद विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया.

इसे भी पढ़ें- टंडवा में हर माह होती है 10 करोड़ की अवैध वसूली, जांच के लिए गृह विभाग ने बनाया एसआईटी का प्रस्ताव, पर आदेश नहीं निकला

इस तरह नारेबाजी कर बिहार को बदनाम ना करें - सुमित्रा महाजन

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने हंगामा कर रहे लोगों के प्रति नाराजगी जताते हुए कहा कि इस तरह नारेबाजी कर बिहार को बदनाम ना करें. सुमित्रा महाजन ने विधायकों से कहा कि ये कोई विधानसभा नहीं है, जिसमें आप हंगामा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जिनको हंगामा करना हो वो बाहर जा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें- मानवता हुई शर्मसार : डायन के आरोप में दो महिलाओं का सिर मुंडाकर पूरे गांव में घुमाया, मल-मूत्र भी पिलाया

विधायकों ने लगाए नारे, किया हंगामा

कॉमनवेल्थ समिट में राजद विधायकों ने किया हंगामा
कॉमनवेल्थ समिट में राजद विधायकों ने किया हंगामा

सम्मेलन में सुशील मोदी ने जैसे ही कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में सजा पाकर 5 पूर्व मुख्यमंत्री किसी न किसी जेल में बंद हैं, आरजेडी विधायकों ने हंगामा कर दिया. सभी विधायक नारे लगाने लगे. हंगामे के बीच सुशील मोदी ने अपना भाषण जारी रखा, लेकिन आरजेडी नेताओं का गुस्सा शांत नहीं हुआ. स्पीकर सुमित्रा महाजन ने हंगामा कर रहे विधायकों को शांत रहने की अपील की. उन्होंने कहा कि आप लोगों को यहां अतिथि के रूप में बुलाया गया है. आप अतिथि की तरह पेश आएं. हंगामे के बाद आरजेडी विधायकों ने सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया.

इसे भी पढ़ें- बिहार की नीतीश सरकार अबतक की सबसे नालायक सरकार : शिवानंद तिवारी

सुशील मोदी अपनी गलती पर माफी मांगे : तेजस्वी

हंगामे पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि सुशील मोदी अनाप-शनाप बोलेंगे और हम चुप रहेंगे, यह नहीं होगा. सुशील मोदी को यह ख्याल रखना चाहिए कि लालू यादव अभी जेल में बंद हैं, और उनके पास अभी हाइकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट जाने का विकल्प है. सबसे बड़ा फैसला जनता की अदालत में होता है. जनता ने लालू को दोषी करार नहीं दिया है. इस बयान के लिए सुशील मोदी को माफी मांगनी चाहिए और उन्हें अपने शब्द वापस लेनी चाहिए. तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है.

52 देशों के प्रतिनिधि हुए शामिल

छठे कॉमनवेल्थ पार्लियामेंटरी समिट का आयोजन बिहार में हो रहा है. इसमें 52 देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए. शनिवार को पटना के ज्ञान भवन में सम्मेलन की शुरुआत हुयी. इस मौके पर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी शामिल हुए.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.                   

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी  

बीजेपी के किस एमपी को मिलेगा टिकट, किसका होगा पत्ता साफ? RSS बनायेगा भाजपा सांसदों का रिपोर्ट कार्ड

आतंकियों की आयी शामतः सीजफायर खत्म, ऑपरेशन ऑलआउट में दो आतंकी ढेर- सर्च ऑपरेशन जारी

दिल्ली: अनशन पर बैठे मंत्री सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबियत, आधी रात को अस्पताल में भर्ती

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब

सूचना आयोग में अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगी सुनवाई, मोबाइल ऐप से पेश कर सकते हैं दस्तावेज

झारखंड को उद्योगपतियों के हाथों में गिरवी रखने की कोशिश है संशोधित बिल  :  हेमंत सोरेन

जम्मू-कश्मीर : रविवार से आतंकियों व अलगाववादियों के खिलाफ शुरु हो सकता है बड़ा अभियान

उरीमारी रोजगार कमिटी की दबंगई, महिला के साथ की मारपीट व छेड़खानी, पांच हजार नगद भी ले गए

विपक्ष सहित छोटे राजनीतिक दलों को समाप्त करना चाहती है केंद्र सरकार : आप