मां-बेटी के साथ दुष्कर्म के आरोपी को दस साल की सजा

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 05/17/2018 - 21:56

Ranchi : अपर न्याययुक्त एसएस प्रसाद की अदालत में मां और बेटी दोनों के साथ दुष्कर्म करने के अभियुक्त महेंद्र सोनार को 10 साल की सजा सुनाई गई. अदालत ने महेंद्र पर दो हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है. जुर्माना नहीं देने पर उसे अतिरिक्त तीन माह की सजा भुगतनी होगी. यह मामला धुर्वा थाना कांड संख्या 99/13 से संबंधित है. मामले की सूचक ने थाना में चार मई 2013 को एफआईआर दर्ज कराया था. दर्ज एफआईआर के अनुसार पीड़िता जगन्नाथपुर के बड़ा खटाल के पास रहती थी. अभियुक्त भी वहीं रहता था. पीड़िता के पति का पांच वर्ष पूर्व निधन हो गया था. पीड़िता रेजा का काम करती थी. उसके साथ अभियुक्त राजमिस्त्री का काम करता था. दोनों बाद में पति-पत्नी की तरह साथ रहने का निर्णय लिया.

इसे भी पढ़ें : छड़-सीमेंट दुकान से लूटपाट का खुलासा, मास्टर माइंड सहित चार गिरफ्तार, हथियार, बाइक, 1.68 लाख रुपये समेत कई सामान बरामद

अभियुक्त घटना की जानकारी देने पर जान से मारने की देता था धमकी

लेकिन अभियुक्त ने मां के साथ-साथ उसकी नाबालिक बच्ची के साथ भी पांच से छह बार दुष्कर्म किया. अभियुक्त ने घटना की जानकारी किसी को देने पर जान से मारने की धमकी देता रहा. नाबालिग की ओर से दिए गए बयान के अनुसार जब वह गर्भवती हो गईजिसकी जानकारी उसकी मामी को हुई, उसके बाद मामी ने घटना की जानकारी नाबालिग की मां को दी. बाद में मामले को लेकर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई. हालांकि बाद में नाबालिग अदालत में मुकर गईलेकिन अदालत की ओर से मेडिकल जांच कराने पर वह गर्भवती निकली. इसके बाद अभियुक्त पर कानूनी कार्रवाई की गई. दुष्कर्म की घटना से नाबालिग को एक बच्ची भी पैदा हुईजिसे सरकार की ओर से किसी अन्य व्यक्ति को गोद दे दिया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na