दुमका शहर में विलय का 42 गांवों के ग्रामीणों ने किया विरोध, रघुवर दास और लुईस मरांडी का पुतला फूंका

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 05/27/2018 - 19:00

Dumka : दुमका शहर के विस्तारीकरण/मास्टर प्लान, जिसमें 42 गांवों को दुमका शहर में विलय करने के विरुद्ध दुमका प्रखंड के सरवा पंचायत अंतर्गत धतिकबोना, हिजला, हडवाडीह, जोगीडीह, विजयपुर, सरवा गांव के ग्रामीणों ने अपने-अपने गांव में दुमका के विधायक सह कल्याण मंत्री डॉ लुईस मरांडी और मुख्यमंत्री रघुवर दास का पुतला जलाकर विरोध किया. ग्रामीणों ने कहा कि शहरीकरण से गरीब आदिवासी, मूलवासी का विकास नहीं होगा. उनकी जमीन लूट जायेगी. किसानों की स्थिति और भी बदत्तर हो जाएगी. ग्रामीणों को विभिन्न तरह का टैक्स देना पड़ेगा.जिससे ग्रामीणों की स्थिति बहुत ख़राब हो जाएगी. होल्डिंग टैक्स आदि बढ़ जाने से ग्रामीण टैक्स के बोझ तले दब जायेंगे और अंत में जमीन मजबूर होकर बेचना पड़ जायेगा.

इसे भी पढ़ें - लातेहार : उपायुक्त ने परिवहन नियमों की उड़ाई धज्जियां, बिना हेलमेट ट्रिपल लोड बाइक चलाकर पहुंचे रोल गांव

शहरीकरण से आदिवासियों की मंझी परगना और प्रधानी व्यवस्था हो जायेगी खत्म

शहरीकरण से आदिवासियों की मंझी परगना व्यवस्था और प्रधानी व्यवस्था ख़त्म हो जाएगी. इससे सभी 42 गांवों के प्रधान, गुडित, जोगमंझी, नायकी का अस्तित्व खत्म हो जाएगा. ग्रामीण ग्राम सभा के ताकतों से वंचित हो जायेंगे. इसके साथ-साथ सभी समुदाय के ग्रामीण बच्चों का नवोदय स्कूल में मिलने वाला आरक्षण में भी कमी जाएगी. ग्रामीणों ने यह भी निर्णय लिया कि जल्द ही विस्तारीकरण/मास्टर के विरुद्ध धरना-प्रदर्शन किया जायेगा और उन राजनीतिक पार्टियों और नेताओं का सामाजिक और राजनीतिक बहिष्कार किया जायेगा, जो जनता के अधिकारों और अनुसूची क्षेत्र के जनता के अधिकारों का हनन करेंगे.

इसे भी पढ़ें - निपाह वायरस : झारखंड में हमारे सामने दो खतरे, केरल से आने वाली ट्रेन और मोरहाबादी में चमगादड़ों का बसेरा

मौके पर ये लोग थे मौजूद

इस मौके में गणेश हांसदा, अशोक टुडू, शीलवंती हांसदा, मेरिल हेम्ब्रोम, सुजाता सोरेन, लिली मरांडी, धोनमुनि मुर्मू, बिटिया किस्कू, सुरेन्द्र सोरेन, विलास हेम्ब्रोम, बुदीलाल मरांडी, विनोद हांसदा, विनय हेम्ब्रोम, बबुसोल मुर्मू, सारजोन हेम्ब्रोम, आनंद हेम्ब्रोम, बबली टुडू, होपना सोरेन, किरण बास्की, मरियल बास्की, चमेली मरांडी, लुखी हांसदा, निशा मुर्मू, सुनीता मुर्मू, प्रिशिला हेम्ब्रोम, नन्दलाल सोरेन, सुरेश हेम्ब्रोम, अर्जुन हांसदा, मकलू मुर्मू, बसंती सोरेन, पकु मरांडी, मकलु हांसदा, सुनील मरांडी, परमिला सोरेन, मार्शल मुर्मू, पानसूरी मरांडी, बाहा मुनि हेम्ब्रोम, निशा किरण तुदु, मुनी हेम्ब्रोम,रामलाल मुर्मू, जुली मुर्मू, जोहन मुर्मू, सुमिता मुर्मू, मिलु मरांडी, सोना बास्की के साथ काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत

मैं नरेंद्र मोदी की पत्नी वो मेरे रामः जशोदाबेन

दुनिया को 'रोग से निरोग' की राह दिखा रहा योग: मोदी

स्मार्ट मीटर खरीद के टेंडर को लेकर जेबीवीएनएल चेयरमैन से शिकायत, 40 फीसदी के बदले 700 फीसदी टेंडर वैल्यू तय किया

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने निजी कारणों से दिया इस्तीफा

बीसीसीआई अधिकारियों को सीओए की दो टूकः अपने खर्चे पर देखें मैच

टीटीपीएस गाथा : शीर्ष अधिकारी टीटीपीएस को चढ़ा रहे हैं सूली पर, प्लांट की परवाह नहीं, सबको है बस रिटायरमेंट का इंतजार (2)

धोनी की पत्नी को आखिर किससे है खतरा, मांग डाला आर्म्स लाइसेंस

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म