हिजला मेला के आस-पास असामाजिक तत्वों को नहीं बेचने देंगे दारू : सुनिलाल हांसदा

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 02/15/2018 - 18:58

Dumka :  दुमका हिजला मेला के आस-पास दारू-हड़िया बेचने नहीं दिया जायेगा. प्रखंड के हिजला गांव में राजकीय जनजातिय हिजला मेला महोत्सव 2018 शांतिपूर्ण रूप से संचालित हो, इसे लेकर हिजला गांव के प्रधान सुनिलाल हांसदा की अध्यक्षता में मेला के स्वयंसेवकों ने ग्रामीणों के साथ बैठक किया. इस बैठक में सभी ने सर्वसम्मति से इस बात को लेकर हामी भरी कि इसबार हिजला मेला में कहीं भी दारू-हड़िया बेचने नहीं दिया जायेगा. साथ ही असामाजिक तत्वों पर भी कड़ी नजर रखी जायेगी. इस बैठक में इस बात पर भी निर्णय लिया गया कि चाय- नाश्ते के नाम पर दुकानों में बेची जाने वाली अंग्रेजी दारू की बिक्री पर भी रोक लगायी जायेगी.

इसे भी पढ़ें - दुमकाः ग्रामीणों ने पूरी की जनजातीय हिजला मेला महोत्सव की तैयारी, 16-23 फरवरी तक आयोजित होगा मेला (देखें वीडियो)

ग्रामीण रखेंगे कड़ी नजर

वहीं ग्रामीणों और स्वयंसेवकों द्वारा मेला परिसर के आस-पास कड़ी नजर रखने का निर्णय लिया गया . साथ ही बैठक में यह भी तय किया गया कि मेला परिसर व दुकान में किसी भी तरह का गैर-कानूनी व असमाजिक गतिविधि होने पर तुरंत पुलिस को सूचित किया जायेगा. मेला में पहली बार महिला स्वयंसेविकायें भी होंगी. इस बैठक में सलोनी सोरेन, अंजुला हांसदा, स्टेनशिला हेम्ब्रोम, पकुटी हांसदा, बिटिया सोरेन, दिलीप सोरेन, गणेश हांसदा, रवि हांसदा, संतोष हेम्ब्रम, बाबुराम मुर्मू, सुनील हांसदा, प्रदीप हांसदा, मनोज हेम्ब्रम, प्रकाश सोरेन, मरकुस हेम्ब्रम, विनय हांसदा, राकेश मरांडी, संजय हेम्ब्रम, सुभाष हांसदा, अजित हांसदा, प्रेम हांसदा आदि उपस्थति थे.

इसे भी पढ़ें - दुमका : हिजला मेले की तैयारी शुरू, मेले की समस्याओं पर अध्यक्ष से ग्रामीणों ने की बातचीत

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.
 

City List of Jharkhand
loading...
Loading...