वर्ल्ड हीमोफीलिया डे आज, विश्वभर में चार लाख लोग इससे ग्रसित

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 12:40

Ranchi : हीमोफीलिया एक जेनेटिक बीमारी है. इसमें मरीज के शरीर का बहता हुआ ब्लड नहीं रुक पाता है. जो जानलेवा साबित हो सकता है. यह बीमारी युवाओं और बच्चों में ज्यादा देखा जा रहा है. कई बार इसके बारे में जानकारी न होने के कारण मरीज की मृत्यु भी हो जाती है. हीमोफीलिया के विश्व फेडरेशन के अनुसार विश्व भर के लगभग 4 लाख व्यक्ति इससे ग्रस्त हैं. वहीं रांची के रिम्स में स्थित हीमोफीलिया सेंटर में पिछले एक साल में लगभग 200 मरीजों का इलाज किया गया है. इसमें से दो की मृत्यु हुई है. इस बीमारी के लक्षण पुरुषों में दिखाई देते हैं, जबकि महिलाएं इसकी वाहक होती हैं. यह बीमारी पुरुषों में ज्यादा होती है, जबकि महिलाओं में यह बीमारी रेयर केस में दिखाई देता है.

इसे भी पढ़ें - 108 एंबुलेंस सेवा: सरकार का दावा अधूरा, मार्च तक सड़कों पर उतारना था 329 एंबुलेंस-अबतक 192 ही हैं उपलब्ध

एक साल में 2 लाख यूनिट फैक्टर 8 दिए गए

हीमोफीलिया का इलाज फैक्टर 8 और फैक्टर 9 देकर किया जाता है.  रिम्स स्थित हिमोफीलिया ट्रीटमेंट सेंटर में पिछले एक साल में 2 लाख 47 हजार यूनिट फैक्टर 8 दिए गए. वहीं मरीजों को 21,250 यूनिट फैक्टर 9 दिए गए. यह सेंटर डेढ़ साल पहले शुरू किया गया है. जिसमें पिछले एक साल में 60 नए मरीज आए हैं.

इसे भी पढ़ें - वीडियो से होगा खुलासा : महिला प्रत्याशी के साथ हुआ जुल्म, या फिर मामला कुछ और है

क्लॉटिंग फैक्टर की कमी से होती है बीमारी

डॉक्टरों के अनुसार यह बीमारी क्लॉटिंग फैक्टर की कमी के कारण होता है. यह एक प्रकार का प्रोटीन होता है. जो खून का थक्का बना कर रक्तस्राव को रोकता है. वहीं हीमोफीलिया रक्त को जमने से रोकती है. हीमोफीलिया से ग्रस्त व्यक्ति के अंदर क्लॉटिंग फैक्टर नहीं होता है या कम हो जाता है. जिसके कारण ब्लीडिंग सामान्य से ज्यादा देर तक होता है.

हीमोफिलिया के लक्षण

किसी प्रकार के दुर्घटना या दूसरी चोट से खून बह रहा हो और लंबे समय तक न रुके तो यह हिमोफिलिया के लक्षण हैं. इसके अलावा लंबे समय तक जोड़ों में दर्द और सूजन, घुटनों और कोहनी में दर्द का रहना, मुंह और मसूड़ों में रक्तस्त्राव होना, नाक से खून आना आदि शामिल है.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

City List of Jharkhand
loading...
Loading...