गांधी सेतु को जाममुक्त करने की प्रशासनिक पहल, अब गिट्टी-बालू लदे वाहनों का नहीं होगा परिचालन

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 05/15/2018 - 17:29

Patna : गांधी सेतु पर वाहनों के बढ़ते दबाव और जाम की समस्या को देखते हुये सोमवार को मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने चार जिलों के अधिकारियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये गांधी सेतु पर सुझाव मांगा था और ट्रैफिक प्लान तैयार करने को कहा. बैठक के बाद निर्णय लिया गया कि गांधी सेतु पर अब गिट्टी और बालू से लदे वाहनों का परिचालन नहीं होगा. गिट्टी और बालू से लदे वाहन अब बेगूसराय के राजेंद्र सेतु और आरा-छपरा के बीच हाल ही में बने वीर कुंवर सिंह सेतु होते हुए उत्तर बिहार की ओर जाएंगे. गांधी सेतु पर फिलहाल यात्री बसों और छोटी गाडिय़ों का परिचालन होता रहेगा. दीघा-सोनपुर के बीच नवनिर्मित जेपी सेतु पर प्रायोगिक तौर पर भारी वाहनों का परिचालन रात दस बजे से सुबह चार बजे तक करने का निर्णय लिया गया. मगर यह परिचालन वन-वे होगा. केवल पटना से उत्तर बिहार के लिए भारी वाहन इस पुल का इस्तेमाल कर सकेंगे.

इसे भी पढ़ेंः यौन शोषण के आरोपी ने तीन साल बाद पीड़िता से शादी करने की जताई इच्छा, न्यायालय के आदेश पर जेल परिसर में हुई शादी

सात दिनों में ट्रैफिक प्लान लागू करें : मुख्य सचिव

मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने एक महत्वपूर्ण बैठक में यह निर्देश दिया कि सात दिनों में ट्रैफिक प्लान लागू करें. बैठक में गृह सचिव, पुलिस मुख्यालय के आला अधिकारी, पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा तथा सारण, भोजपुर, पटना तथा वैशाली के डीएम-एसपी भी मौजूद थे. सीएस ने पुल पर अतिरिक्त पुलिस व प्रशासनिक व्यवस्था भी करने की बात कही. बैठक में गांधी सेतु पर जाम की मुख्य वजह भारी संख्या में बालू और गिट्टी लदे वाहनों की आवाजाही को माना गया. जिसके बाद प्रशासन ने बालू और गिट्टी लदे वाहनों के परिचालन पर रोक लगाने का निर्णय लिया.

इसे भी पढ़ेंः कर्नाटक में बहुमत पर फंसा पेंच, रुझानों में आगे रहकर भी बीजेपी बहुमत से पीछे, कांग्रेस ने जेडीएस को दिया सीएम पद का ऑफर

पीपा पुल पर 24 घंटे होगा वाहनों का परिचालन

गायघाट से हाजीपुर के बीच बने पीपा पुल पर छोटे वाहनों के परिचालन के लिए समय सीमा की बाध्यता समाप्त कर दी गई है. अब 24 घंटे पीपा पुल पर वाहनों का परिचालन करने का निर्णय लिया गया है. पहले शाम छह बजे के बाद पीपा पुल पर वाहनों का परिचालन बंद कर दिया जाता था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na