न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देश की सबसे बड़ी मेडिकल परीक्षा नीट की आवेदन प्रक्रिया शुरू, 3 मई को 11 भाषाओं में होगी परीक्षा

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट हिंदी व अंग्रेजी के अलावा 11 अन्य भाषाओं में ली जायेगी. 2 दिसबंर से 31 दिसंबर तक आवेदन के साथ फोटो व स्कैन किया हुआ हस्ताक्षर अपलोड किया जा सकता है.

125

Ranchi : नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से देश की सबसे बड़ी मेडिकल प्रवेश परीक्षा के लिए एप्लीकेशन नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है. वर्ष 2020 के लिए यह प्रवेश परीक्षा 3 मई को देशभर के 154 से अधिक केंद्रों में ली जायेगी. ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शाम चार बजे से प्रारंभ हो गयी है. इच्छुक व योग्यताधारी उम्मीदवार 1 जनवरी तक नीट की ऑफिशियल वेबसाइट या एनटीए की वेबसाइट पर जा कर आवेदन कर सकते हैं. ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 1 जनवरी 2020 तक चलेगी.

इसे भी पढ़ें : #Sci&Tech  हिंदी सहित भारतीय भाषाओं का गूगल में सर्च प्रतिशत 2019 में बढ़कर 20 फीसद हुआ

JMM

11 भाषाओं में होगी परीक्षा

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट हिंदी व अंग्रेजी के अलावा 11 अन्य भाषाओं में ली जायेगी. 2 दिसबंर से 31 दिसंबर तक आवेदन के साथ फोटो व स्कैन किया हुआ हस्ताक्षर अपलोड किया जा सकता है. परीक्षा शुल्क इन्हीं तिथियों के बीच जमा किया जा सकता है. सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों को परीक्षा शुल्क के रूप में 1500 रुपये, इब्ल्यूएस व ओबीसी में नॉन क्रिमी लेयर उम्मीदवार को 1400 रुपये के अलावा अन्य को 800 रुपये देने होंगे. नोटिफिकेशन के मुताबिक अगर आवेदन में किसी प्रकार की गलती रह जाती है तो उसे 15 से 31 जनवरी के बीच सुधार किया जा सकता है. परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रवेश पत्र 27 मार्च 2020 से डाउनलोड किया जा सकता है. परीक्षा 3 मई 2020 को ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें : पलामू: अब गांव-गांव मिलेगा न्याय-चलंत लोक अदालत की शुरूआत, PDJ ने हरी झंडी दिखा न्याय रथ किया रवाना

एम्स व जीपमर में भी नीट से ही होगा नामांकन

वर्ष 2020 की नीट परीक्षा की अहम बात यह है कि इस वर्ष से देश के एम्स व जीपमर(जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च) सहित सभी मेडिकल कॉलेजों / संस्थानों में इसी परीक्षा के माध्यम से नामांकन लिया जायेगा. वर्ष 2019 तक एम्स व जीपमर में नामांकन के लिए अलग से परीक्षा ली जाती थी. नीट (यूजी) परीक्षा-2020 में एक प्रश्न पत्र होगा जिसमें भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान (वनस्पति विज्ञान और प्राणी विज्ञान) से 180 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे. नीट यूजी 2020 की परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को मेरिट के आधार पर देशभर के मेडिकल कालेजों में चलाये जा रहे एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सों में एडमिशन मिलेगा.

इसे भी पढ़ें : मोबाइल फोन यूजर्स को बड़ा झटकाः Jio, वोडा-आइडिया,एयरटेल ने महंगे किये कॉल रेट और इंटरनेट सेवाएं

वर्ष 2019 में नीट एप्लीकेशन से कमाये 192 करोड़

एमबीबीएस व बीडीएस कोर्स में नामांकन के लिए बीते वर्ष जो नीट आवेदन फीस ली गयी थी, उससे 192 करोड़ करोड़ की कमाई हुई थी. बीते वर्ष नीट परीक्षा का देशभर में 5 मई 2019 को आयोजन किया गया था. इनमें से कुल 15,19,375 उम्मीदवारों ने पंजीयन कराया था, जिनमें से 14,10,755 उम्मीदवार ने परीक्षा में भाग लिया था. अहम बात यह है कि बीते वर्ष की तुलना में इस वर्ष फीस में बढ़ोत्तरी की गयी है. बीते वर्ष सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए परीक्षा शुल्क 1400 रुपये था, जो इस वर्ष 1500 रुपये होगा. वहीं एससी-एसटी उम्मीदवार को बीते वर्ष 750 रुपये लगे थे,जिन्हें इस वर्ष 800 रुपये देने होंगे.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like