...तो इस वजह से युवाओं ने लगाये रघुवर दास मुर्दाबाद के नारे, दूसरे राज्य जाकर 5 हजार की नौकरी तो नहीं करेंगे ना !

Submitted by NEWSWING on Wed, 01/10/2018 - 18:52

स्नातक पास उम्मीदवारों को दी जा रही 5 से 6 हजार की नौकरी दूसरे राज्यों में

Ranchi : नौकरी मिलने का नाम सुनते ही राज्य भर के बेरोजगार युवकों की भीड़ खेलगांव में उमड़ पड़ी. हजारों युवा बीते तीन दिनों से बेहतर जिन्दगी के सपनों में उड़ रहे थे. सबको आस थी कि इस बार रघुवर सरकार के रोजगार मेले से उनकी बेरोजगारी का दौर खत्म होगा. लेकिन आज खेलगांव पहुंचे युवाओं का आक्रोश अचानक भड़क उठा. जिस सरकार ने उन्हें नौकरी देने के लिए रोजगार मेले का आयोजन किया, उन्हीं के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे.

आखिर क्या हुआ आज जिससे भड़क उठे बेरोजगार युवा

नौकरी की आस में खेलगांव पहुंचे युवकों की भीड़ ने दिन भर लाईन में रहकर रजिस्ट्रेशन कराया. मुख्य स्टेडियम में नौकरी के लिए इंटरव्यू चल रहा है. स्टेडियम के गेट नंबर-7 के पास भीड़ से जूझते हुए वे एक-दो घंटे बाद अंदर पहुंच रहे हैं. इतने में भी नौकरी पाने का प्रोसेस पूरा नहीं होता. इसके आगे उन्हें मुख्य स्टेडियम में एक-दो घंटे खड़े रहने पड़ रहे हैं. उसके बाद ही इंटरव्यू होता है. युवाओं ने कहा कि वे यह सब सहने को भी तैयार हैं. लेकिन उनका दिल उस समय टूट जा रहा जब उन्हें दूसरे राज्यों में 5 से 7 हजार की नौकरी ऑफर की जा रही है. यह सब देखकर छात्र खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं. आज इनके सब्र का बांध टूट गया. सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे. रघुवर दास मुर्दाबाद के भी नारे लगाये गये.

इसे भी पढ़ें : नौकरी के नाम पर धोखे से बेरोजगार युवकों का फूटा गुस्सा, रोजगार मेले में लगे ‘रघुवर दास मुर्दाबाद' के खूब नारे (देखें वीडियो)

नौकरी की आस में राज्य भर से पहुंचे हैं हजारों युवा

बता दें कि युवा दिवस के अवसर पर राज्य सरकार ने बेरोजगार युवाओं के लिए ‘रोजगार मेले’ का आयोजन कर रखा. इसमें रोजगार की लालसा में पूरे

/candidates opposing low salaried jobs in employment fair of Jharkhand govt
candidates opposing low salaried jobs in employment fair organized by Jharkhand govt

झारखण्ड के युवा आये हुए हैं. सरकार 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर 25 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र देने जा रही है. इसके साथ ही तरह-तरह की घोषणाएं भी की जाने वाली हैं. सरकार 25 हजार नियुक्ति पत्र बांटने का प्रचार भी खूब कर रही है. शहर भी बैनर-पोस्टर से पटा पड़ा है. इसके लिए पिछले 8 जनवरी से कैंपस ड्राईव चलाया जा रहा है, जिसमें राज्य के विभिन्न कोनों से छात्र नौकरी की आस लेकर आ रहे हैं.

इस दौरान आज बुधवार को छात्रों ने अपनी नाराजगी खुलकर जाहिर करते हुए कहा कि सरकार नौकरी के नाम पर झांसा दे रही है. साथ ही रघुवर दास मुर्दाबाद के नारे भी लगाये. बता दें कि युवा दिवस पर 25 हजार युवाओं को झारखण्ड सरकार रोजगार देने वाली है. छह हजार चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया जायेगा. कार्यक्रम में केंद्रिय मंत्री के साथ-साथ देश के विभिन्न राज्यों के मंत्री व प्रतिनिधि शामिल होनेवाले

सरकार के ये हैं दावे, जिनका खूब हो रहा प्रचार

विश्वस्तरीय स्किल सेंटर की होगी स्थापना 

कौशल विकास योजना की नई नीति के तहज राज्य में कौशल विकास यूनिवर्सिटी और विश्वस्तरीय स्किल डेवलपमेंट सेंटर की स्थापना का दावा किया गया है. इस नीति के तहत अभ्यर्थियों को प्लेसमेंट और स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाना है. 2017-18 में कौशल विकास विभाग की ओर से 14 हजार और सरकार की ओर से लगभग 25 हजार लोगों का  प्लेसमेंट किया जाना है. इसके अलावा सरकार कौशल विकास को उद्योग का दर्जा देने की प्लानिंग में है. इससे राज्य में स्किल सेंटर खोलने की दिशा में बढ़ावा मिलेगा. स्किल सेंटर खोलने वाली एजेंसी को उद्योग के समान सुविधाएं दी जायेंगी. उच्च एवं तकनीकी शिक्षा सह कौशल विकास दवारा जारी नई पाॅलिसी को राष्ट्रीय युवा दिवस मे आयोजित होने वाले कार्यक्रम में जारी किये जाने की संभावना है. 

/candidates opposing low salaried jobs in employment fair of Jharkhand govt
रोजगार मेले का पोस्टर

तीन दिन में करीब 4000 छात्रों का किया जा चुका है चयन 

खेलगांव में चल रहे मेगा प्लेसमेंट ड्राइव के पहले  दो दिनों में 2396 अभ्यर्थियों का अंतिम चयन किया गया. प्लेसमेंट ड्राइव 11 जनवरी तक चलेगा. आठ जनवरी को 874 अभ्यर्थियों का चयन किया गया था, जबकि दूसरे दिन कौशल विकास के तहत प्रशिक्षित 1261 व उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से 261 अभ्यर्थियों का चयन किया गया. जिन कंपनियों ने चयन किया, उनमें आनंद डेयरी लिमिटेड, बाबा कंप्यूटर्स, कैपिटल काउ, फ्लिपकार्ट, मनी मेकर, टीम लेस, ट्रेड इंडियन, पॉलिसी बाजार समेत अन्य  शामिल हैं.

 

Main Top Slide
City List of Jharkhand
loading...
Loading...