today's top nw news

कटकमसांडी साइडिंग पर कोयला में डस्ट मिलाकर भेज रहा है लोडर मुन्ना सिंह

Submitted by NEWSWING on Mon, 04/23/2018 - 11:49
Ranchi: हजारीबाग स्थित कटकमसांडी रेलवे साइडिंग पर इन दिनों अच्छी क्वालिटी के कोयले में डस्ट (चारकोल) मिलाकर भेजने का खेल जारी है. इस काम को मुन्ना सिंह नाम का लोडर अंजाम दे रहा है. मुन्ना सिंह को स्थानीय विधायक का करीबी माना जाता है. इस कारण कोई कुछ नहीं बोल रहा. नियमों को नजरअंदाज कर जब कटकमसांडी, रेलवे साइडिंग को चालू किया गया था, तब उद्घाटन के वक्त विधायक के साथ मुन्ना सिंह भी खड़ा था.

विश्व की सबसे बुजुर्ग महिला का 117 वर्ष की आयु में निधन

Submitted by NEWSWING on Sun, 04/22/2018 - 13:30
Tokyo : दुनिया की सबसे बुजुर्ग इंसान का दक्षिणी जापान में निधन हो गया. उनकी आयु 117 वर्ष थी. किकाई के एक अधिकारी ने बताया कि नबी ताजीमा का शनिवार की रात करीब आठ बजे से पहले एक अस्पताल में निधन हो गया. वह जनवरी से वहां भर्ती थीं. नबी का जन्म चार अगस्त 1900 में हुआ था. उनके कथित तौर पर (ग्रेट ग्रेट ग्रेट ग्रैंड चिल्ड्रन सहित) 160 से अधिक वंशज थे. उनका शहर किकाई जापान के चार मुख्य द्वीपों के दक्षिणी भाग क्यूशू पर कागोशिमा प्रांत में स्थित है.

रिम्स के डॉक्टर अंशुल ने कहा- मरीजों को बेहतर ट्रीटमेंट देना हमारा काम, हमें खुशी है कि भगवान ने हमें मरीजों की सेवा का मौका दिया

Submitted by ADMIN on Sat, 04/21/2018 - 20:21
Ranchi : रिम्स के जाने माने चिकित्सक डॉ अंशुल कुमार जिन्होंने कार्डियोथोरेसिक एंड वैस्कुलर सर्जरी के द्वारा कई मरीजों की जान बचायी है. युवा होने के साथ ही मरीजों से इनका लगाव अन्य चिकित्सकों से इन्हें अलग करता है. पिछले एक वर्ष से अपनी सेवा रिम्स में दे रहे हैं. न्यूज विंग संवाददाता सौरभ शुक्ला ने इनसे बातचीत की और हृद्य रोग से संबंधित कई सवाल किए. पेश है बातचीत का मुख्य अंश. 

छुट्टी विवाद को लेकर आइआरबी के जवान ने अपने साथी हवलदार की गोली मार कर की हत्या

Submitted by NEWSWING on Sat, 04/21/2018 - 10:56

Ranchi: गढ़वा में आइआरबी के जवान मुक्ति नारायण सिंह ने अपने साथी अफरोज समद की गोली मार दी. जिससे उनकी मौत हो गयी. जिसके बाद जवान मुक्ति नारायण सिंह राइफल लेकर फरार हो गया है. जानकारी के मुताबिक घटना सुबह के 7.00 बजे की है. गढ़वा पुलिस ने जवान की तलाश शुरु कर दी.

इसे भी पढ़े:झारखंड को बीजेपी पसंद है !... 34 में 21 मेयर-अध्यक्ष बीजेपी के, सीएम ने कहा: विपक्ष बहस के लायक नहीं

चुने हुए प्रतिनिधियों को काम करने का अधिकार भी मिले : आजसू

Submitted by NEWSWING on Fri, 04/20/2018 - 19:35
Ranchi : नगर निकाय चुनाव के नतीजे आने के बाद आजसू ने त्‍वरित प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर सभी जीते हुए प्रत्याशियों को बधाई एवं शुभकामनायें दी हैं. आजसू के केंद्रीय प्रवक्‍ता डॉ देवशरण भगत ने बयान जारी कर कहा है कि राज्य में पहली बार दलगत रूप से नगर निकाय चुनाव संपन्न हुआ नगर निकाय क्षेत्र में विकास को गति मिलेगा. चुने हुए जनप्रतिनिधियों को जनता की अकांक्षाओं के अनुरूप कार्य करने के लिए अधिकार भी मिलना चाहिए. साथ ही आजसू प्रवक्‍ता ने सभी उम्मीदवारों को धन्यवाद दिया है. उन्होंने कहा है कि जीत और हार कार्य करने के लिए प्रेरित करता है. हम हमेशा जनता के मुद्दों के साथ उनके बीच रहकर सेवा और संघर्ष करें.

ग्राम सड़क योजना : जिन कंपनियों के खिलाफ की गई थी CBI जांच की अनुशंसा, उन्‍हीं को विभाग ने दिया फिर से काम

Submitted by NEWSWING on Thu, 04/19/2018 - 21:02
Ranchi: झारखंड सरकार के ग्रामीण कार्य विभाग के द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अधूरे निर्माण के लिए जिन एजेंसियों के खिलाफ सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी, अब उन्‍ही कंपनियों पर फिर से भरोसा करते हुए अधूरी सड़क को पूरा कराये जाने की तैयारी की जा रही है. साथ ही उन जवाबदेह एजेंसियों के खिलाफ न तो कोई कानूनी कार्रवाई की जा रही है और ना ही जुर्माना लगाया जा रहा है. फरवरी 2018 में ग्रामीण विकास विभाग ने अधूरी सड़कों के लिए जिम्‍मेवार मानते हुए केंद्र सरकार के उपक्रम नेशनल प्रोजेक्ट्स कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन (एनपीसीसी), हिन्दुस्तान स्टील कंसट्रक्शन लि. (एचएससीएल) एवं इरकॉन व अन्य के विरुद्ध सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी. ग्रामीण विकास विभाग की अनुशंसा को सही मानते हुए तत्‍कालीन मुख्‍य सचिव राजबाला वर्मा ने फाइल को सीएम के पास भेज दिया था. इस मामले पर जानकारी देते हुए ग्रामीण विकास विभाग के सचिव अविनाश कुमार ने बताया कि संबंधित कंपनियों के कार्यकलाप की समीक्षा की गई है और वित्‍त सचिव के स्‍तर पर भी इसकी समीक्षा की गई है. इस समीक्षा के बाद मई 2018 से उन अधूरी सड़क परियोजनाओं पर फिर से काम शुरू हो जायेगा.

नगड़ी पीडीएस में डीबीटी : मंत्री ने कहा नियमों में एकरूपता ना होने से योजना सफल नहीं, केंद्र सरकार को जानकारियों से कराएंगे अवगत

Submitted by NEWSWING on Thu, 04/19/2018 - 18:37
Ranchi: बुधवार को हेमंत सोरेन के नगड़ी दौरे के कुछ देर के बाद ही यह अफवाह उड़ी कि खाद्यान्न वितरण मामले में डीबीटी फेल होने की वजह से डीबीटी व्यवस्था राज्य सरकार वापस ले लेगी. जबकि ऐसा करना राज्य सरकार के बस में है ही नहीं. केंद्र सरकार की पायलट प्रोजेक्ट पीडीएस में डीबीटी देश के करीब-करीब हर राज्य में शुरू की गयी. केंद्र की तरफ से जब यह निर्देश झारखंड को मिला तो राज्य के दो प्रखंडों का चयन सरकार की तरफ से किया गया. इनमें गोला और ओरमांझी प्रखंड शामिल थे. लेकिन जल्दबाजी में और रांची से पास होने के कारण नगड़ी प्रखंड को चुना गया. मामले को लेकर अर्थशास्त्री ज्यां द्रेज ने भी आपत्ति दर्ज करायी थी. जिसके बाद उन्होंने विभाग को एक रिपोर्ट सौंपी. रिपोर्ट को विभाग ने केंद्र सरकार को भेज दिया.

शिक्षा सचिव ने कहा- संख्या बल के आधार पर सरकार को डराएं नहीं पारा शिक्षक, संघ ने कहा- मांग पूरा करने पर ध्यान दें शिक्षा सचिव, धमकाएं नहीं

Submitted by NEWSWING on Thu, 04/19/2018 - 18:25
Ranchi : राज्य भर के पारा शिक्षक पांचों प्रमंडल से चलकर रांची पहुंचने वाले हैं, इसके लिए पदयात्रा पर हैं. पदयात्रा के तीसरे दिन आज कोडरमा से चलकर निकली टीम अपनी यात्रा ईचाक से आगे बढ़ायी, वहीं दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल से निकली पारा शिक्षकों की टोली आज सिसई से आगे बढ़ी. अन्य तीन प्रमंडलों के पारा शिक्षक भी अपनी मांग को लेकर तत्परता के साथ मांगें मनवाने आगे बढ़ रहे हैं. विदित हो कि पारा शिक्षक योजनाबद्ध तरीके से आंदोलन को आगे बढ़ा रहे हैं. 23 अप्रैल से रांची में वे मुख्यमंत्री आवास का अनिश्चितकालीन घेराव करेंगे.

एससी-एसटी एक्ट : झारखंड सरकार दायर करेगी पुनर्विचार याचिका

Submitted by NEWSWING on Thu, 04/19/2018 - 18:00
Ranchi : एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर झारखण्ड सरकार पुनर्विचार याचिका दायर करेगी. इसके लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करने का आदेश दिया है. तर्क दिया गया है कि झारखण्ड अनुसूचित जनजाति/अनुसूचित जाति बहुल्य प्रदेश है. तथा यहां एससी-एसटी एक्ट प्रावधानों के अन्तर्गत वादों में निहितार्थ झूठ नहीं मिलते हैं. इसको ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गृह विभाग को निर्देश दिया है कि राज्य सरकार अपना पक्ष रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करे. सुप्रीम कोर्ट द्वारा क्रिमिनल वार 416/2018 डॉ. सुभाष काशीनाथ महाजन बनाम महाराष्ट्र राज्य सरकार एवं अन्य में 20 मार्च 2018 को पारित न्याय निर्णय की कंडिका 83 में एससी-एसटी एक्ट पर कई दिशा-निर्देश जारी किये गए हैं.

निधि खरे ने कहा- मातृ-शिशु मृत्यु दर को शून्य करेगी सरकार, रेफर होते ही बड़े अस्पतालों को मरीजों के बारे मिलेगी सूचना

Submitted by NEWSWING on Wed, 04/18/2018 - 20:59
Ranchi : स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा है कि झारखंड में कोई भी प्रसूता इलाज के अभाव में दम नहीं तोड़ेगी. नवजात बच्चों की मृत्युदर को भी शून्य किया जाएगा. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सदर अस्पताल और मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रेफर होने वाली गर्भवती महिलाओं को जरुरत के हिसाब से फौरन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. जिससे इनका उपचार समय पर होगा. मरीजों को बड़े अस्पताल रेफर करने के फौरन बाद कॉल सेंटर को पूरी जानकारी दी जाएगी. जिससे इनका इलाज बगैर देरी के शुरू करने में आसानी होगी.
loading...
Loading...