Skip to content Skip to navigation

मकैनिकल इंजिनियरिंग मेें बढ रहा हैं लोगों का क्रेज

News Wing

Ranchi, 7September: इंजिनियरिंग में नया रुझान देखने को मिल रहा है. हालांकि इस साल से देश भर में इस प्रफेशनल कोर्स में सीटों की संख्या 16.3 लाख से घटकर 14.7 लाख होने जा रही है लेकिन आईटी और सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में अनिश्चितता के इस दौर में भी मकैनिकल इंजिनियरिंग के प्रति दिलचस्पी बढ़ रही है. अब बीटेक में कंप्यूटर साइंस को लेकर पहले जैसा क्रेज नहीं दिख रहा है. 2013-14 में 25.44 फीसदी छात्रों ने कंप्यूटर साइंस को चुना था जबकि इस साल करीब 24 फीसदी. 

 

दूसरे नंबर पर रहा

पिछले चार सालों का आंकड़ा देखने पर पता चलता है कि मकैनिकल इंजिनियरिंग छात्रों की पसंद के मामले में दूसरे नंबर पर रहा है. जहां पहले 20.22 फीसदी छात्र इसे चुनते थे वहीं अब यह आंकड़ा बढ़कर 21.6 फीसदी हो गया है. सिविल और इलेक्ट्रिकल इंजिनियरिंग जैसे कोर्स भी टॉप पर हैं. 





मकैनिकल इंजिनियरिंग के फायदे

यह एक बड़ी ब्रांच है. इस कोर्स को करने के बाद छात्र कई इंडस्ट्रीज में फिट हो सकते है. आईटी सेक्टर में अनिश्चितता को देखते हुए भी मकैनिकल इंजिनियरिंग एक फायदेमंद कोर्स है क्योंकि मकैनिकल के छात्र आईटी कंपनी को जॉइन कर सकते हैं लेकिन अन्य कोर्सों के साथ ऐसा संभव नहीं है.

Lead
Share
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us