Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

बिहार में शिक्षकों के लिए नौकरी की बहार, होगी 19502 शिक्षकों की नियुक्ती

News Wing
Patna, 7 September: नौकरी चाहिए तो घबराइए नहीं, क्योंकि बिहार में 19502 शिक्षकों की नियुक्ती की जाएगी. बिहार में शिक्षकों की कमी को देखते हुए शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा ने 6 सितंबर को इस बात की घोषणा करते हुए शीघ्र ही शिक्षकों की बहाली का भरोसा दिलाया है. वहीं उन्होंने ये भी कहा कि स्कूलों में जो प्रधानाध्यापक के खाली पद हैं उनको भी प्रोन्नति के माध्यम से अक्टूबर तक भर दिया जाएगा.

शिक्षा मंत्रालय की ओर से यह एक बडा और अहम फैसला लिया गया है. इस नियुक्ती में हाईस्कूल से लेकर प्लस टू स्कूलों में अलग-अलग विषयों के लिए शिक्षकों की नीयुक्ती की जाएगी. इसी को लेकर शिक्षा विभाग द्वारा पदवर्ग समिति को शिक्षकों की रिक्तियां भेजी जा रही हैं.

गणित और विज्ञान के शिक्षकों की कमी को देखते हुए बीटेक और एमएमसी पास को भी शिक्षक बनने के लिए बीएड की अनिवार्यता समाप्त करने पर भी विचार किया जा रहा है.

शिक्षकों की जल्द से जल्द नियुक्ती को लेकर शिक्षा विभाग ने सभी जिलों से स्कूलों में शिक्षकों के खाली पदों के आधार पर डेटा तैयार कर लिया है. एक माह में पदवर्ग समिति से अनुमति मिलने के बाद वित्त और कैबिनेट की मंजूरी लेकर बहाली शुरू हो जाएगी. शिक्षक दिवस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की घोषणा के बाद केंद्रीकृत तरीके से बहाली पूरी की जाएगी. बता दें कि पहले यह नियोजन इकाई के जरिए होनी थी.

विश्वविद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए जिस प्रकार विवि सेवा आयोग का गठन किया जा रहा है, उसी प्रकार विद्यालय शिक्षक चयन आयोग के गठन की बात है.हाईस्कूल और प्लस टू स्कूलों में बहाली के लिए एसटीईटी नहीं ली गई है. माना जा रहा है कि नई बहाली बीएड डिग्रीधारियों की केंद्रीकृत तरीके से परीक्षा लेकर होगी.

Share
loading...