Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

रैनकोट, झाड़ू, कंप्यूटर मानीटर व रबड़ बैंड होंगे सस्ते

News Wing

New Delhi, 10 September : माल एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद द्वारा कर दर को कम किए जाने से लगभग 40 उतपादों के दाम कम होंगे जिनमें इटली/डोसा बाटर, रेनकोट, झाडू व मोटा सूती कपड़ा शामिल है.



जीएसटी परिषद की 21वीं बैठक

जीएसटी परिषद की 21वीं बैठक कल हैदराबाद में हुई जिसमें 20 ईंच तक के कंप्यूटर मानीटरों, कपास रजाई, रबड़ बैंड व किचन गैस लाइटरों पर शुल्क घटाने का फैसला किया गया. केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीईसी) की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार खादी व ग्रामोद्योग की दुकानों से बिकने वाले खादी कपड़े को जीएसटी से छूट दी गई है.

40 उत्पादों पर लगी जीएसटी में विसंगतियां

इसी तरह साड़ी के फाल, धूप बत्ती, मोटे सूती कपड़े, सूखी इमली, अखरोट व भुने हुए चने पर जीएसटी दर को 12 प्रतिशत से घटाकर पांच प्रतिशत किया गया है. फिटमेंट समिति ने इन 40 उत्पादों पर लगी जीएसटी में विसंगतियां पाईं थी जिसके मद्देनजर दरों में संशोधन किया गया है. इसके तहत प्लास्टिक रैनकोट व रबड़ बैंड को अब क्रमश: 18 प्रतिशत व 12 प्रतिशत के दायरे में रखा जाएगा जो कि पहले 28 प्रतिशत पर था.



इडली व डोसा पर अब 18 प्रतिशत के बजाय 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा. वहीं झाड़ू व ब्रशों को शुल्क से पूरी तरह छूट दी गई है. किचन गैस लाइटरों पर अब 28 प्रतिशत के बजाय 18 प्रतिशत शुल्क लगेगा. वहीं माला मनकों पर जीएसटी दर को 18 प्रतिशत से घटाकर पांच प्रतिशत किया गया है. टेबलवेयर, किचनवेयर, पोरसीलेन या चीनी मिट्टी से बने घरेलू सामान के लिए भी जीएसटी की दर कम की गई है.

Share
loading...