Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

Add new comment

प्लस टू शिक्षक नियुक्ति परीक्षा का सिलेबस जारी

News Wing

Ranchi, 12September: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षक प्रतियोगिता परीक्षा-2017 का सिलेबस जारी कर दिया है. आयोग द्वारा शीघ्र ही इस परीक्षा की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. इस परीक्षा के माध्यम से 280 प्लस टू स्कूलों में 3,080 स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षकों की नियुक्ति होगी.

झारखंड से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे

आयोग द्वारा जारी सिलेबस के अनुसार, इसमें प्रारंभिक व मुख्य परीक्षा आयोजित की जाएगी. प्रारंभिक परीक्षा एक पत्र की होगी जिसमें सामान्य अध्ययन, सामान्य विज्ञान, सामान्य गणित, मानसिक क्षमता, कंप्यूटर तथा झारखंड से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे.

दो पत्रों की होगी मुख्य परीक्षा 

मुख्य परीक्षा दो पत्रों की होगी. प्रथम पत्र में सामान्य ज्ञान एवं हिन्दी भाषा ज्ञान के प्रश्न पूछे जाएंगे। द्वितीय पत्र उस विषय का होगा जिसमें नियुक्ति के लिए अभ्यर्थी आवेदन जमा करेंगे. तीन घंटे की इस परीक्षा में स्नातक स्तर के प्रश्न पूछे जाएंगे. प्रारंभिक परीक्षा में 450 अंकों के प्रश्न पूछे जाएंगे. इसमें कोई न्यूनतम अर्हतांक नहीं होगा.

पहले पत्र में 33 फीसद और दूसरे पत्र में  न्यूनतम 50 फीसद  अंक लाना अनिवार्य 

मुख्य परीक्षा के पहले पत्र में 33 फीसद अंक लाना अनिवार्य होगा. दूसरे पत्र में भी न्यूनतम 50 फीसद अंक लाना अनिवार्य होगा. एससी, एसटी के लिए 45 फीसद अंक लाना अनिवार्य होगा. हालांकि सिलेबस में इसका जिक्र नहीं किया गया है. परीक्षा को लेकर जारी होनेवाली सूचना में इसका जिक्र हो सकता है.

बीएड की डिग्री होना अनिवार्य 

उल्लेखनीय है कि इन पदों पर नियुक्ति के लिए संबंधित विषय में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक के साथ स्नातकोत्तर के साथ-साथ बीएड की डिग्री होना अनिवार्य है. एससी, एसटी के अभ्यर्थियों के लिए यह अनिवार्य अंक प्रतिशत 45 निर्धारित है. कुल पदों में 50 फीसद पदों पर सीधी भर्ती होगी. शेष 50 फीसद पद हाई स्कूलों में तीन वर्ष तक सेवा देनेवाले शिक्षकों के लिए आरक्षित होंगे.

इन विषयो में होगी नियुक्ति :

हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, रसायन शास्त्र, भौतिकी, जीव विज्ञान, अर्थशास्त्र, इतिहास, भूगोल, वाणिज्य एवं संस्कृत.

Share
loading...