Skip to content Skip to navigation

मुंगेर की रोहिणी को मिला मिसेज इंडिया अर्थ के फाइनल में जगह

News Wing

Patna, 13September:  बिहार के मुंगेर जिले की रहने वाली रोहिणी को मिसेज इंडिया अर्थ के फाइनल के लिए चुन लिया गया है. जल्द ही वे देश की 48 खूबसूरत मॉडल्स के बीच कैटवॉक करती नजर आएंगी. अगर बिहार की बात करें तो सिर्फ रोहणी को ही इंडिया अर्थ में जगह मिली है.

बता दें कि बिहार की बेटी रोहिणीं आगामी 6 अक्टूबर को दिल्ली में आयोजित होने वाली प्रतिष्ठित मिस इंडिया अर्थ प्रतियोगिता के ग्रैंड फिनाले में बिहार का प्रतिनिधित्व करेगी. 

मुंगेर की रहने वाली हैं रोहिणी

रोहिणी का जन्म बिहार की योग्य नगरी कहे जाने वाली मुंगेर की धरती पर हुआ था. वह बचपन से ही पढ़ने-लिखने में काफी तेज थीं. पढ़ने के साथ-साथ उसकी खूबसूरती भी देखने लायक थी और सौंदर्य प्रतियोगिता में खुद को स्थापित करने के लिए उसने काफी संघर्ष किया. इसी का नतीजा है कि वह देश की सबसे खूबसूरत 48 प्रतिभागियों के बीच अपनी जगह बनाई है.

दिल्ली विश्वविद्यालय से की पढ़ाई

बचपन में मुंगेर नोट्रे डेम एकेडमी से पढ़ाई लिखाई पूरा करने के बाद रोहिणी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की. जिसके बाद उसने आइबीएस हैदराबाद के प्रबंधक में स्नातकोत्तर की पढ़ाई पूरी की और वर्ष 2008 में ओरिएंटल बैंक ऑफ़ कॉमर्स में मार्केटिंग में योगदान दिया. बैंक में नौकरी करने के बाद उनकी शादी मुंगेर के ही प्रमोद शुक्ल से कर दी गई जो बेंगलुरु में सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करते थे. शादी के बाद रोहिणी को एक बच्चा हुआ और उसने नौकरी छोड़ बच्चे का ध्यान रखना शुरु कर दिया इसी दौरान उनका चयन ग्रैंड फिनाले में हुआ जिससे मुंगेर के लोग काफी खुश है.

ससुराल वालों ने हमेशा दिया साथ

अपनी बेटी के बारे में उसकी मां बताती है कि आज जहां बेटी और बहु में फर्क महसूस किया जाता है वही रोहिणी का सास और पति ने उसे हर कदम पर साथ दिया और हौसला बढ़ाया इसी का नतीजा है कि उसे आज 48 खूबसूरत लड़कियों में जगह मिली है. अपनी बेटी के परिवार के बारे में उनका कहना है कि वह परिवार काफी खुश हाल होता है जो छोटी-छोटी खुशियों को मिलकर सेलिब्रेट करता है.

सामाजिक कार्यों में लेती हैं बढ़चढ़ कर हिस्सा

आपको बताते चलें कि रोहिणी फिलहाल बेंगलुरु में रहती है, जहां वह भ्रमण, लेखन, नृत्य, गायन और ईवेंट मैनेजमेंट जैसे कई कामों में दिलचस्पी रखती है. रोहणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वछता अभियान खुले में शौच से मुक्ति के लिए लोगों के बीच जाकर जागरूकता अभियान चलाने का भी काम किया था और पर्यावरण संरक्षण के लिए पेड़ लगाओ पर्यावरण बचाओ अभियान में हिस्सा बनी थी. वह ग्रीन पीस जैसे संगठनों को भी आर्थिक सहयोग करती रही हैं.

Lead
Share

Add new comment

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us