Skip to content Skip to navigation

लालू प्रसाद को सर्वोच्च न्यायालय से जमानत, राबड़ी ने कहा अब राजद मजबूत होगा

नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय ने चारा घोटाला मामले में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव को राहत देते हुए उन्हें शुक्रवार को जमानत दे दी। लालू प्रसाद को रांची स्थित केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की अदालत ने चारा घोटाला मामले में पांच साल कारावास की सजा सुनाई थी। 

इस मामले के 44 दोषियों में से 37 को पहले ही जमानत मिल चुकी है और छह अन्य की याचिका पर निचली अदालत में विचार किया जा रहा है। 

सर्वोच्च न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति पी.सतशिवम और न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की खंडपीठ ने लालू प्रसाद को जमानत दे दी है और उन्होंने कहा कि इस मामले में अन्य दोषियों की दी गई जमानत के आधार पर ही उन्हें भी जमानत दी जा रही है। 

न्यायालय ने कहा कि लालू प्रसाद को दी गई पांच साल की सजा में से एक साल दो अलग-अलग चरणों में पूरे हो चुके हैं, जिसमें सुनवाई के दौरान 10 महीने का कारावास और दोषी पाए जाने के बाद से दो महीने का कारावास शामिल है। 

सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि लालू प्रसाद को जमानत पर रिहा करने से पहले रांची की निचली अदालत उन पर लगाई जाने वाली शर्तों का फैसला करेगा।

लालू को जमानत मिलने से राजद मजबूत होगा : राबड़ी
पटना, 13 दिसंबर (आईएएनएस)| कुख्यात चारा घोटाले के एक मामले में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद को सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद उनकी पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने मिठाइयां बांटी और खुशी मनाई। इस दौरान उन्होंने कहा कि लालू के आने से राजद मजबूत होगा। 

लालू को जमानत मिलने की खबर पटना पहुंचने के बाद पूरे राज्य के राजद कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ गई। इस दौरान राबड़ी देवी ने अपने सरकारी आवास में मिठाइयां बांटी। राजद के प्रदेश कार्यालय में भी मिठाइयां बांटी गईं। बिहार विधानसभा में मौजूद राजद के विधायकों ने सदन से बाहर निकलकर एक-दूसरे को बधाई दी तथा मिठाइयां बांटी। 

राबड़ी ने लालू के जमानत मिलने पर प्रसन्नता जाहिर की और कहा कि सुबह में ही उन्होंने लालू के घर आने का सपना देखा था, तभी उन्हें विश्वास हो गया था कि लालूजी को लेकर कुछ शुभ समाचार आएगा। सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें जमानत देकर उनके सपने को सच साबित कर दिया। 

उन्होंने कहा कि अब परिवार सहित बिहार के लोग उनके पटना आने का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी धर्मनिरपेक्ष दलों को एक मंच पर आना चाहिए। राबड़ी ने कहा कि जिन्होंने साजिश के तहत जेल भेजवाने का काम किया था, उनकी कलई खुल गई है। उन्होंने कहा कि उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। 

उन्होंने राजद में टूट की संभावना से इंकार किया और कहा कि राजद जब अबतक नहीं टूटा तो अब क्या टूटेगा, अब तो लालूजी आ गए? लालू के आने से राजद और मजबूत होगी। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की किसी तरह की हवा होने से भी इंकार किया। 

लालू के पुत्र और राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि विरोधियों की साजिश के तहत उनको (लालू) फंसाया गया। उन्होंने कहा कि लालू के आने के कारण सांप्रदायिक शक्तियों में घबराहट होने लगी है। यादव ने कहा कि लालू पूरे राज्य में जाएंगे और धर्मनिरपेक्ष शक्तियों को एकजुट करेंगे।

उल्लेखनीय है कि लालू सहित 43 लोगों को चारा घोटाले के एक मामले में न्यायालय ने दोषी करार दिया था। लालू को न्यायालय ने पांच वर्ष कारावास की सजा सुनाई है। वर्तमान समय में लालू रांची जेल में सजा काट रहे हैं। (आईएएनएस)

Slide
Share
loading...