मोमेंटम झारखंड की चौथी ग्राउंड ब्रेकिंग में 151 कंपनियों का शिलान्‍यास, सीएम का दावा,10 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 04/27/2018 - 19:57

Deoghar : कुमैठा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्सदेवघर में मोमेंटम झारखण्ड के चौथे ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह का का उद्घाटन मुख्यमंत्री रघुवर दास ने किया. इस दौरान 151 कंपनियों का शिलान्यास किया गया,  जिसमें कुल 27 सौ करोड़ का निवेश किया जाएगा. इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि इससे लगभग 10,000 लोगों को रोजगार का अवसर प्राप्त होगा.

अस्थिरता के कारण 14 सालों में विकास नहीं हुआ

मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जी की सोच से इस राज्य का निर्माण हुआ था लेकिन सरकार की आस्थिरता के कारण विकास नहीं हो पाया. 14 वर्षों के बाद पहली बार राज्य को स्थिर सरकार मिली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां के लोगों से वादा किया था और लोगों के विश्वास पर खरे उतरते हुए सरकार ने पिछले तीन वर्षों में विकास की एक नई लकीर खींची है.

इसे भी पढ़ें- बिना किसी तैयारी के सरकार ने बनाया एससी आयोग, कहां होगा आयोग का कार्यालय, यह तय नहीं 

''हर हाथ को कामहर खेत में पानी'' 

सीएम ने कहा कि सरकार नारे से नहीं चलतीनीति और नीयत से सरकार चलती है. सरकार के साथ जितनी भी कंपनियों के एमओयू अब तक हुए हैं धीरे-धीरे सारी कंपनियां जमीन पर उतर रही हैं एवं एक साल में झारखंड के जमीन पर निवेशकों द्वारा निवेश भी किया गया. पूरे देश में Ease of Doing Business में भी झारखंड सबसे ऊपर है. उन्होंने कहा कि टीम झारखंड के कारण हीं यह संभव हो पाया है कि झारखंड देश का दूसरा राज्य है जहां की आर्थिक विकास दर 8.6 है.

120 करोड़ का बनेगा प्‍लास्टिक पार्क

उन्होंने कहा कि झारखंड निवेशकों का पसंदीदा स्थान बन चुका है. संथाल परगना आजादी के बाद भी पिछड़ा क्षेत्र रहा लेकिन अब संथाल परगना पिछड़ा नहीं रहेगा. सरकार ने संथाल परगना के विकास के लिए विशेष योजनाएं बनाई हैं. देवीपुर में 120 करोड़ की लागत से प्लास्टिक पार्क की स्थापना की जाएगी. एम्स की जमीन स्थांतरित कर दी गई है एवं एयरपोर्ट का भी शिलान्यास माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा किया जाएगा. यह सारी योजनाएं संथालपरगना के विकास में चार चांद लगाएगी. सीएम ने कहा कि वर्ष 2020 तक निश्चित रूप से झारखंड देश के सबसे विकसित राज्यों में शामिल होगा एवं आने वाले 10 वर्ष के भीतर झारखंड को एक नई ऊंचाई पर खड़ा करना सरकार का लक्ष्य है. 

इसे भी पढ़ें- रिम्स का कैथलैब खराब, लोगों को दी जा रही सलाह- पैसे का मोह छोड़िये, जान बचानी है तो जाइये दूसरे अस्पताल  

संथाल परगना की संवरेगी तस्वीर

उद्योग खान एवं भूतत्व विभाग के सचिव डॉ. सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि राज्य सरकार उद्योगों को धरातल पर लाने के लिए प्रयत्नशील है. संथाल परगना के विकास के लिए सरकार उद्योगों को प्रोत्साहित करना चाहती हैइससे क्षेत्र का सर्वांगीण विकास हो सकेगा. इसके अलावा उन्होंने कहा कि ऐसे 39 उद्योग हैं जो सिर्फ संथाल परगना क्षेत्र पर हीं लगाए जा सकते हैं. इन उद्योगों के माध्यम से इस क्षेत्र की प्राकृतिक संपदा का उपयोग कर लोगों को रोजगार के नये अवसर प्रदान किये जा सकेंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.